Media & Advet.

Media & Advet. / Current Events

Current Events

  • Vihan

  • Current Events

    IT Security and Network Seminar
  • Current Events

    Vihan Singing Competition
  • Current Events

    Vihan Guli Cricket
  • Current Events

    Vihan Dance Competition

 

Current Event

राधारमण विद्यार्थियों ने किया एचईजी का भ्रमण
16-05-2016

भोपाल। राधारमण इन्स्टीट्यूट ऑफ रिसर्च एण्ड टेक्नालॉजी के मेकेनिकल इंजीनियरिंग विद्यार्थियों ने हाल ही में मण्डीदीप स्थित विश्व की सबसे बड़ी गे्रफाइट इलेक्ट्रोड्स निर्माता कंपनी हिन्दुस्तान इलेक्ट्रो ग्रेफाइट लिमिटेड का औद्योगिक भ्रमण किया। इस शैक्षिक भ्रमण का उद्द्ेश्य उद्योग जगत के व्यावहारिक पहलुओं की जानकारी प्राप्त करना था। इस भ्रमण के दौरान कंपनी के उच्चाधिकारियों ने विद्यार्थियों को कंपनी की कार्यप्रणाली, ग्रेफाइट इलेक्ट्रोड्स के निर्माण की प्रक्रिया के तकनीकी पहलु, रिसर्च एण्ड डेवलपमेंट, मार्केटिंग एवं इम्पोर्ट व एक्सपोर्ट से जुड़े पहलुओं की जानकारी दी। कंपनी अधिकारियों ने विद्यार्थियों द्वारा पूछे गए प्रश्नों के जवाब भी दिए। विद्यार्थियों की यह विजिट सीनियर डायरेक्टर डॉ. ए.आर. सिद्दिकी, डायरेक्टर जितेन्द्र सक्सेना व मैकेनिकल ब्रांच के हेड डॉ. राजीव वाष्र्णेय के मार्गदर्शन में आयोजित की गई। समूह के चेयरमेन आर.आर. सक्सेना ने कहा कि विद्यार्थियों को उद्योग जगत के कामकाजी पहलुओं की जानकारी दिलाने के उद्देश्य से समूह द्वारा समय समय पर ऐसे औद्योगिक भ्रमणों का आयोजन किया जाता है। ऐसे भ्रमण विद्यार्थियों को इण्डस्ट्री रेडी बनाने में काफी मदद करते हैं।

  More Detail
Current Event

राधारमण में स्टार्ट अप व इनोवेशन पर सेमीनार संपन्न
13-05-2016

युवा रोजगार मांगने वालों की बजाय रोजगार पैदा करने वाले बनें भोपाल। राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स परिसर में विगत दिवस मोटीवेशनल स्टार्टअप एण्ड इनोवेशन इन सिविल इंजीनियरिंग विषय पर आरआईटीएस सिविल इंजीनियरिंग विभाग द्वारा सेमीनार का आयोजन किया गया। इण्डिया स्पीकिंग फोरम के यंग लीडर्स कान्क्लेव के संयोजक राजपाल सिंह इस कार्यक्रम के वक्ता थे। उन्होंने अपने व्याख्यान में कहा कि देश में इस समय स्टार्टअप्स का जबर्दस्त दौर चल रहा है। हर क्षेत्र में युवा नए आयडियाज व क्रिएटिविटी के साथ अपने कारोबार स्थापित कर लोगों को सुविधाओं के साथ साथ अपने लिए आमदनी जुटा रहे हैं। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों को स्वरोजगार की दिशा में आगे बढऩा चाहिए ताकि वे न केवल अपनी जीविका जुटा सकें बल्कि औरों को भी कामकाज मुहैया करा सकें। इस अवसर पर राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स के चेयरमेन आर.आर. सक्सेना ने कहा कि युवाओं के लिए यह बहुत उचित समय है कि वे स्वयं के उद्यम स्थापित करें व देश की आर्थिक प्रगति में अपना योगदान दें। उन्होंने बताया कि उनका समूह समय-समय पर उद्योग जगत की हस्तियों को अपने यहां आमंत्रित कर विद्यार्थियों को स्वरोजगार की ओर बढऩे हेतु प्रेरित करता है।

  More Detail
Current Event

राधारमण विद्यार्थियों ने की इण्डस्ट्रियल विजिट
09-05-2016

भोपाल। राधारमण इन्स्टीट्यूट ऑफ टेक्नालॉजी एण्ड साइंस के सिविल इंजीनियरिंग तृतीय वर्ष के विद्यार्थियों ने हाल ही में एक डिस्टलरी एवं ब्रेवरीज कंपनी के प्लांट का दौरा किया। इस दौरान कंपनी अधिकारियों ने उन्हें कंपनी के वेस्ट डिस्पोजल ट्रीटमेंट के लिए बनाए गए इफ्लूयेंट ट्रीटमेंट प्लांट की विजिट कराई तथा इस प्लांट से कैसे अशुद्ध पानी को शुद्ध किया जाता है। अधिकारियों ने बताया कि शुद्ध किये गए पानी का इस्तेमाल बागवानी व खाद निर्माण के लिए किया जाता है। साथ ही उन्होंने फोरआर प्रिंसिपल के विभिन्न तत्वों जैसे रिड्यूज, रीयूज, रीसायकल व रिकवर आदि के बारे में विस्तार से जाना। समूह के चेयरमेन आर.आर. सक्सेना ने इस इण्डस्ट्रियल विजिट को अत्यंत उपयोगी बताते हुए कहा कि ऐसी विजिट से विद्यार्थियों को उद्योग जगत की कार्यप्रणाली के व्यावहारिक पहलुओं को सीधे तौर पर देखने व समझने का अवसर मिलता है। इस अनुभव से उन्हें आने वाले समय में होने वाले कैम्पस इंटरव्यू में लाभ मिलता है।

  More Detail
Current Event

बीई थर्ड सेम में राधारमण समूह का शानदार परीक्षा परिणाम
06-05-2016

भोपाल। राजीव गाँधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (आरजीपीवी) द्वारा हाल ही में घोषित बीई थर्ड सेमेस्टर के परीक्षा परिणामों में राधारमण समूह ने एक बार फिर शानदार परिणाम दर्ज कराए हैं। घोषित परिणामों के मुताबिक समूह के राधारमण इन्स्टीट्यूट ऑफ टेक्नालॉजी एण्ड साइंस (आरआईटीएस) की कम्प्यूटर साइंस विषय की छात्रा सम्भावी सुमन ने 8.88 एसजीपीए के साथ पूरे समूह में प्रथम स्थान प्राप्त किया। वहीं राधारमण इंजीनियरिंग कॉलेज (आरईसी)सिविल इंजीनियरिंग विषय के विद्यार्थी दानिश हसन 8.63 एसजीपीए के साथ कॉलेज के टॉपर रहे। इसी प्रकार राधारमण इन्स्टीटूयूट ऑफ रिसर्च एण्ड टेक्नालॉजी (आरआईआरटी) के मेकेनिकल इंजीनियरिंग विषय के छात्र नबील हसन 8.13 एसजीपीए के साथ कॉलेज की मेरिट लिस्ट में प्रथम आए। राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स के चेयरमेन आर.आर. सक्सेना ने सभी सफल विद्यार्थियों को बधाई देते हुए भविष्य में भी और बेहतर परिणाम लाने को कहा है। उन्होंने यह भी कहा कि समूह में मौजूद एनआईटी व अन्य दिग्गज संस्थानों से निकले उच्च शिक्षित व अनुभवी फैकल्टी मेम्बर्स के सफल मार्गदर्शन की वजह से समूह साल दर साल शानदार परीक्षा परिणाम दर्ज करा रहा है।

  More Detail
Current Event

राधारमण विद्यार्थी को पीएचडी चैम्बर ऑफ कॉमर्स से मिला पुरस्कार
03-05-2016

भोपाल। राधारमण इंजीनियरिंग कॉलेज के मेकेनिकल इंजीनियरिंग विद्यार्थी अनुराग गोस्वामी को पीएचडी चैम्बर ऑफ कॉमर्स एण्ड इण्डस्ट्रीज द्वारा आयोजित निबंध लेखन प्रतियोगिता के तहत पुरस्कृत किया गया है। अनुराग ने भारत को सुपरपावर बनाने में युवाओं की भूमिका विषय पर अपना निबंध लिखा था। इस प्रतियोगिता में प्रदेश के विभिन्न महाविद्यालयों के विद्यार्थियों ने बड़ी संख्या में भाग लिया था। कड़ी प्रतिस्पर्धा के बीच अनुराग के निबंध का चयन किया गया। उन्हें हाल ही में होटल लेक व्यू अशोक होटल में आयोजित एक समारोह में यह पुरस्कार प्रदेश के तकनीकी शिक्षा संचालक आशीष डोंगरे के हाथों प्राप्त हुआ। राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स के चेयरमेन आर.आर. सक्सेना ने अनुराग को इस उपलब्धि पर बधाई देते हुए कहा है कि वे आगे भी इसी तरह समूह का प्रतिनिधित्व कर अपनी प्रतिभा को निखारते रहें।

  More Detail
Current Event

राधारमण में स्टेड प्रो सॉफ्टवेयर ट्रेनिंग प्रोग्राम
27-04-2016

भोपाल। राधारमण इन्स्टीट्यूट ऑफ टेक्नालॉजी एण्ड साइंस में पांच दिनी स्टेड प्रो इंजीनियरिंग सॉफ्टवेयर ट्रेनिंग प्रोग्राम आयोजित किया जा रहा है। बेंटली सिस्टम्स नामक कंपनी के इस अमेरिकन सॉफ्टवेयर का उपयोग थ्री डी स्ट्रक्चरल एनालिसिस और डिजाइन के लिए किया जाता है। बड़ी इमारतों से लेकर पुलों व हवाई अड्डों के निर्माण में प्रयुक्त होने वाला यह साफ्टवेयर इन दिनों जबर्दस्त मांग में है। कॉलेज के सिविल इंजीनियरिंग विद्यार्थियों को इसका प्रशिक्षण देश की जानी मानी कंपनी कान्सेप्ट टेली सिस्टम से आए विषेषज्ञ हिमांशु कुलश्रेष्ठ द्वारा दिया जा रहा है। इस साफ्टवेयर के जरिए बनने वाले डिजाइनों का प्रेक्टिकल प्रशिक्षण दिया जा रहा है। प्रशिक्षण में जिन प्रमुख विषयों को शामिल किया गया है उसमें फस्र्ट ऑर्डर स्टेटिक एनालिसिस, सेकण्ड ऑर्डर पी-डेल्टा एनालिसिस, जियोमेट्रिक नान लिनियर एनालिसिस तथा बकलिंग एनालिसिस प्रमुख हैं। राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स के चेयरमेन आर आर सक्सेना ने इस ट्रेनिंग प्रोग्राम के बारे में टिप्पणी करते हुए कहा कि उनका समूह विद्यार्थियों को श्रेष्ठतम शिक्षण व प्रशिक्षण उपलब्ध कराने के उद्देश्य से इण्डस्ट्री के जाने माने विशेषज्ञों को समय समय पर आमंत्रित करता रहता है। यह कार्यक्रम भी इसी श्रृंखला का हिस्सा है जिससे विद्यार्थी इस विश्वस्तरीय सॉफ्टवेयर को सीखने का अवसर प्राप्त कर रहे हैं

  More Detail
Current Event

राधारमण में ग्रुप फार्मा फेस्ट संपन्न
25-04-2016

भोपाल। राधारमण कॉलेज ऑफ फार्मेसी का एनुअल फंक्शन फार्मा फेस्ट 2016 हाल ही में संपन्न हुआ। एक सप्ताह तक चले इस फेस्टीवल में खेलकूद, सांस्कृतिक एवं वैज्ञानिक प्रतियोगिताएं आयोजित की गईं। इस फेस्ट में शामिल होने समूह के पूर्व विद्यार्थियों को भी आमंत्रित किया गया। खेलकूद वर्ग में क्रिकेट, कैरम, कबड्डी, बेडमिंटन और शतरंज के खिलाडिय़ों ने अपनी प्रतिभा दिखलाई। सांस्कृतिक गतिविधियों के तहत विद्यार्थियों ने तात्कालिक भाषण, गीत गायन, डांस, लघु नाटिका, रंगोली, मेहंदी व फ्लावर डेकोरेशन में भाग लिया। वहीं वैज्ञानिक वर्ग में क्विज, भाषण व पोस्टर प्रजेंटेशन प्रतियोगिताएं आयोजित की गईं। इस दौरान देश की जानी मानी फार्मास्युटिकल्स कंपनी ग्लेनमार्क के नासिक कार्यालय से आए डॉ. गौरव पाठक ने फार्मेसी के क्षेत्र में मौजूद रोजगार संभावनाओं व चुनौतियां विषय पर लैक्चर दिया। उन्होंने बताया कि फार्मेसी पास विद्यार्थी किन-किन पदों के लिए आवेदन कर सकते हैं तथा संबंधित पदों के लिए विद्यार्थियों में किस तरह की योग्यताओं की मांग कंपनियों द्वारा की जाती है। बंसल कॉलेज ऑफ फार्मेसी के प्राचार्य डॉ. सतीश नायक समापन समारोह के मुख्य अतिथि थे। इस अवसर पर प्रतियोगिताओं के विजेताओं को पुरस्कार व स्मृति चिन्ह भी भेट किये गए।

  More Detail
Current Event

राधारमण में अर्थ डे मना
22-04-2016

भोपाल, 22 अप्रैल 2016। पानी के लिए विश्व युद्ध की शुरूआत हो चुकी है क्योंकि बहुत से देशों में पानी को मिलिट्री नियंत्रित कर रही है। बहुत सारे देश पानी के लिए आपस में दुश्मन बन चुके हैं। इजराइल वार की तह में धर्म नहीं बल्कि पानी है। उक्त बात आज राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स परिसर में आज विश्व पृथ्वी दिवस (अर्थ डे) के अवसर पर आयोजित एक सेमीनार में जाने माने पर्यावरणविद सुधीन्द्र मोहन शर्मा ने कही। सेमीनार का विषय धरती, पानी और हम रखा गया था। सेमीनार में समूह के सभी विद्यार्थी, कर्मचारी एवं फैकल्टी मेम्बर सम्मिलित हुए। श्री शर्मा ने अपने उद्बोधन में कहा कि यदि पानी को लेकर पूरे विश्व व्याप्त तनाव को बढऩे से नहीं रोका गया तो हालात बहुत खतरनाक हो जाएंगे। पानी के दुरुपयोग पर चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि ऐसा ही चलता रहा तो वर्ष 2025 तक दुनिया के अनेक देशों में पीने का पानी खत्म हो जाएगा जिसमें भारत भी शामिल है। उन्होंने यह भी कहा कि नान वेजीटेरियन खाना बनाने में वेजीटेरियन खाना बनाने की तुलना में तीन गुना पानी खर्च होता है। श्री शर्मा ने कहा कि युवा वर्ग को पर्यावरण से जुड़े सभी अंतरराष्ट्रीय दिवसों के महत्व को समझना होगा। उन्होंने विद्यार्थियों से कहा कि वे आगे आकर पर्यावरण को होने वाले नुकसान से बचाएं ताकि धरती आने वाली पीढिय़ों के रहने के लिए सुरक्षित रह सके। ऐसा तभी संभव है जब युवा वर्ग जागरूकता अभियान का नेतृत्व करते हुए अपने आसपास के लोगों को पर्यावरण सुरक्षा के महत्व को समझाएं व उस पर अमल करवाएं। उन्होंने आगे कहा कि पर्यावरण के प्रति हमारी अनदेखी का ही परिणाम है कि हम न केवल जलसंकट से जूझ रहे हैं बल्कि कई प्राकृतिक आपदाओं में फंसकर दुनियाभर में जनधन की बड़ी हानि हो रही है। जंगलों के विनाश, जल संसाधनों का अपव्यय व पर्यावरण संतुलन के उपायों की कमी ने वर्ष दर वर्ष स्थितियों को बिगाडऩे का काम किया है लेकिन अब खतरे की घण्टी बज चुकी है और हमें बिना किसी देर किए तेजी से उपाय करने होंगे ताकि महाप्रलय से बचा जा सके। इस अवसर पर राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स के चेयरमेन आर.आर. सक्सेना ने कहा कि विद्यार्थियों को पर्यावरणीय असंतुलन की भयावहता को गंभीरता से लेते हुए यथासंभव जन जागृति फैलाने के साथ साथ स्वयं पर्यावरण को बचाने संबंधी उपायों में जुट जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि उनका समूह पौधरोपण से लेकर जल बचाने तक ऐसे अनेक उपाय हमेशा करता रहता है जिनसे पर्यावरणीय दुष्प्रभावों को कम किया जा सके। उन्होंने यह भी कहा कि उनका समूह आने वाले समय में बड़ी मात्रा में सौर ऊर्जा से बिजली प्राप्त करने की तैयारी कर रहा है।

  More Detail
Current Event

राधारमण के विद्यार्थियों ने एक बार फिर लहराया परचम
18-04-2016

भोपाल।। राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स के विद्यार्थियों ने हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी राजीव गाँधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (आरजीपीवी) द्वारा घोषित पांचवे सेमेस्टर के परीक्षा परिणामों में शानदार प्रदर्शन किया है। आरजीपीवी द्वारा घोषित परिणामों के मुताबिक राधारमण इन्स्टीट्यूट ऑफ टेक्नालॉजी (आरआईटीएस) का आईटी ब्रांच का परिणाम 93.55 प्रतिशत रहा इस कॉलेज के विद्यार्थी रोशन कुमार ने कम्प्यूटर साइंस में 9.19 एसजीपीए पाकर प्रथम स्थान प्राप्त किया। राधारमण इंजीनियरिंग कॉलेज (आरईसी) का ईसी ब्रांच का परीक्षा परिणाम 85.70 प्रतिशत रहा। कॉलेज के छात्र दुर्गेश हजारे ने इलेक्ट्रिकल एंड इलेक्ट्रॉनिक्स ब्रांच में 8.44एसजीपीए प्रथम स्थान प्राप्त किया। राधारमण इन्स्टीट्यूट ऑफ रिसर्च एण्ड टेक्नालॉजी (आरआईआरटी) ने शानदार प्रदर्शन करते हुए मेकेनिकल इंजीनियरिंग ब्रांच में 87.36 प्रतिशत परिणाम हासिल किया। कॉलेज के विद्यार्थी शैलांक कुमार सिंह ने 8.06 एसजीपीए के साथ पूरे कॉलेज में प्रथम स्थान हासिल किया। राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स के चेयरमेन आर.आर. सक्सेना ने इस सफलता का श्रेय विद्यार्थियों की मेहनत तथा उच्च शिक्षित एवं अनुभवी फैकल्टी मेम्बर्स की कड़ी मेहनत को दिया है।

  More Detail
Current Event

राधारमण में हाईराइज बिल्डिंग निर्माण विषय पर सेमीनार संपन्न
13-04-2016

भोपाल। किसी भी बड़ी बिल्डिंग का निर्माण उसकी कार्ययोजना बनाने से आरंभ होता है। कार्ययोजना में डिजाइन, लागत, निर्माण की प्रक्रिया तथा लगने वाला समय से लेकर विभिन्न तकनीकी व अन्य पहलु शामिल होते हैं। साथ साथ यह भी ध्यान रखा जाना जरूरी होता है कि जिस स्थान पर ऊंची इमारत बन रही है वहां की मिट्टी कैसी है, क्या वह क्षेत्र भूकंप संवेदी क्षेत्र में आता है एवं क्या वहां इमारत की स्थिरता व मजबूती को चुनौती देने वाले और कोई कारण मौजूद हैं। उक्त बात विगत दिवस राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स परिसर में हाईराइज बिल्डिंग के निर्माण से जुड़े पहलुओं पर आधारित एक सेमीनार में साउथ कोरिया से आए जाने माने निर्माण विशेषज्ञ व स्ट्रक्चरल इंजीनियर मनोहर नेमा ने कही। उन्होंने बताया कि आज के दौर में बिल्डिंग निर्माण के लिए बहुत सारी तकनीकी मदद मौजूद है जिसकी सहायता से परफेक्ट निर्माण को अंजाम दिया जा सकता है। अपने लैक्चर में उन्होंने बीआईएम तथा मायडेस जैसे सॉफ्टवेयरों की भी जानकारी दी जिनकी मदद इन दिनों बड़ी बिल्डिंगों के निर्माण में ली जा रही है। इस अवसर पर राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स के चेयरमेन आर.आर. सक्सेना ने श्री नेमा को उनके गहन ज्ञान को विद्यार्थियों के साथ साझा करने के लिए धन्यवाद दिया व विद्यार्थियों को बताई गई जानकारी को अच्छी तरह दिमाग में बिठाने की सलाह दी।

  More Detail
Current Event

राधारमण के 15 शिक्षक सृजन एक्सीलेंट टीचर अवार्ड से सम्मानित
11-04-2016

भोपाल। राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स के फैकल्टी मेम्बर्स ने एकबार पुन: अपनी शिक्षण गुणवत्ता को सिद्ध करते हुए प्रतिष्ठित सृजन एक्सीलेंट टीचर अवार्ड प्राप्त किया है। यह अवार्ड विभिन्न विषयों के शिक्षकों को प्रतिवर्ष प्रदेश के सभी महाविद्यालयों के उन चुनिंदा शिक्षकों को प्राप्त होता है जिनका परीक्षा परिणाम 100 प्रतिशत रहता है। विगत दिवस आयोजित एक भव्य समारोह में 15 शिक्षक ये अवार्ड एमिटी यनिवर्सिटी, गुडग़ांव के वाइस चांसलर डॉ. पी.बी. शर्मा ने प्रदान किए। राधारमण समूह के जिन फैकल्टी मेम्बर्स को यह अवार्ड प्राप्त हुआ है उनमें राधारमण इन्स्टीट्यूट ऑफ टेक्नालॉजी एण्ड साइंस के इलेक्ट्रिकल &इलेक्ट्रॉनिक्स विषय के प्राध्यापक आमिर खान, इसी विषय के विवेक मानेकर व आस्था काशिव; कम्प्यूटर साइंस की हंसा आचार्य व शुभा दुबे, मेकेनिकल इंजीनियरिंग के अजय सिंह, फिजिक्स की नमिता सिंह, ईसी की स्नेहा जैन तथा मैकेनिकल इंजीनियरिंग के आशीष वर्मा शामिल थे। इसी प्रकार राधारमण इंजीनियरिंग कॉलेज के ईसी विषय के अभिरूप सिन्हा, बीई की शिप्रा गुप्ता तथा ईएक्स की माधुरी सक्सेना ने यह अवार्ड प्राप्त किया। राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स के चेयरमेन आर.आर. सक्सेना ने इस अवार्ड मिलने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि इससे समूह की विद्यार्थियों को विश्वस्तरीय शिक्षा प्रदान करने की प्रतिबद्धता एक बार पुन: साबित हुई है। उन्होंने कहा कि समूह में देश के दिग्गज संस्थानों से निकले उच्च शिक्षित एवं अनुभवी शिक्षक विद्यार्थियों को मार्गदर्शन प्रदान कर रहे हैं। यही नहीं समूह समय-समय पर इन शिक्षकों को शिक्षा के क्षेत्र में हो रहे नवीन बदलावों का आवश्यक प्रशिक्षण भी उपलब्ध कराता है ताकि उनका शिक्षण कौशल और अधिक निखर सके।

  More Detail
Current Event

राधारमण ग्रुप के 9 छात्रों को मिली चांसलर स्कॉलरशिप
06-04-2016

भोपाल। राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स ने आज आयोजित एक समारोह में प्रतिष्ठित चांसलर स्कॉलरशिप प्राप्त विद्यार्थियों व उनके पेरेंट्स को सम्मानित किया। इन विद्यार्थियों को हाल ही में प्रदेश के राज्यपाल के हाथों इंजीनियरिंग के 9 विद्यार्थियों को चांसलर स्कॉलरशिप प्रदान की गई थी। यह स्कॉलरशिप प्रतिवर्ष प्रदेश के चुनिंदा विद्यार्थियों को राजीव गाँधी प्रौद्यागिकी विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित परीक्षा में श्रेष्ठ परिणाम हासिल करने पर दी जाती है। समूह के जिन विद्यार्थियों को यह स्कॉलरशिप प्राप्त हुई है उनमें राधारमण इन्स्टीट्यूट ऑफ टेक्नालॉजी एण्ड साइंस से आरुषि सिन्हा, धीरज कुमार यादव, प्रवीण प्रकाश, राधारमण इंजीनियरिंग कॉलेज से दानिश हसन, करुणा मुदगल, स्वाति वमा, रुचि मिश्रा, राधारमण इन्स्टीट्यूट ऑफ रिसर्च एण्ड टेक्नालॉजी से अभिषेक नंद मेहर तथा अमित कुमार शामिल हैं। समूह परिसर में इन सभी विद्यार्थियों व उनके पेरेंट्स को समूह के चेयरमेन आर.आर. सक्सेना ने प्रशस्ति पत्र व स्मृति चिन्ह भेंटकर सम्मानित किया। इस अवसर पर अपने उद्बोधन में श्री सक्सेना ने कहा कि यह उपलब्धि जितनी विद्यार्थियों की मेहनत व पेरेंट्स के सहयोग की वजह से प्राप्त हुई है उतनी ही समूह में मौजूद उच्च शिक्षित एवं अनुभवी फैकल्टी मेम्बर्स व अन्य सहयोगी कर्मचारियों का भी इसमें महत्वपूर्ण योगदान है। उन्होंने कहा कि उनका समूह उनका समूह शैक्षिक गुणवत्ता को विश्वस्तर पर ले जाने के सतत प्रयास करता रहेगा।

  More Detail
Current Event

राधारमण सोलर कार को मिला आईएसआईई फ्चूयर अवार्ड
30-03-2016

भोपाल। विगत दिवस संपन्न हुई एशिया की सबसे बड़ी सोलर-इलेक्ट्रिक व्हीकल चैम्पियनशिप 2016 में राधारमण सोलर कार को आईएसआईई फ्यूचर अवार्ड मिला है। समूह की रातीबड़ स्थित परिसर में चार दिनों तक चली इस चैम्पियनशिप में देश के 19 राज्यों के 40 से अधिक इंजीनियरिंग कॉलेजों के विद्यार्थियों द्वारा बनाई गई 76 कारों ने भाग लिया था। प्रतियोगिता का पहला पुरस्कार चैन्नई के हिन्दुस्तान यूनिवर्सिटी, चैन्नई की टीम ताइयो जेन को दूसरा पुरस्कार हैदराबाद के श्रीनिधी इन्स्टीट्यूट आॅफ साइंस एण्ड टेक्नालॉजी की टीम मैकेनाइजर 10.0 को तथा तीसरा पुरस्कार पुणे के कालेज आॅफ इंजीनियरिंग की टीम सीओईपी सनराइजर्स को मिला। वहीं बेस्ट डिजाइन के लिए मैनिट, भोपाल की टीम सोलारेसर्स 2.0 चुनी गई। इस रेस के उद्घाटन समारोह में आरजीपीवी के वाइस चांसलर पीयूष त्रिवेदी, मध्यप्रदेश उर्जा विकास निगम के मैनेजिंग डायरेक्टर मनु श्रीवास्तव, स्थानीय विधायक रामेश्वर शर्मा तथा इम्पीरियल सोसायटी आॅफ इनोवेटिव इंजीनियर्स, पंजाब के प्रेसीडेंट विनोद गुप्ता शामिल हुए। वहीं रेस के ग्रेंड फिनाले में सीआईआई, मध्यप्रदेश के चेयरमेन व दौलतराम इण्डस्ट्रीज के मैनेजिंग डायरेक्टर सी पी शर्मा भी टीमों का हौसला बढ़ाने रेस ट्रेक पर पहंुचे।

  More Detail
Current Event

राधारमण सोलर-इलेक्ट्रिक व्हीकल चैम्पियनशिप 2016
28-03-2016

राधारमण समूह व इम्पीरियल सोसायटी अॉफ इनोवेटिव इंजीनियर्स का संयुक्त आयोजन रोमांचक मुकाबले के बाद फाइनल में पहुंची 36 कारें प्रतियोगियों से मिलने सीआईआई, नईदिल्ली के डायरेक्टर रॉय जैकब खासतौर पर भोपाल आए विद्यार्थियों व आयोजकों को सीआईआई की ओर से नईदिल्ली आने का मिला न्यौता प्रतियोगिता की चुनिंदा कारें होंगी अगले महीने गे्रटर नोयडा में होने वाली ग्लोबल एक्जीबिशन आॅन सर्विसेस में होंगी प्रदर्शित निकली स्पर्धा के सह आयोजक संस्थान राधारमण समूह से लेकर आरपीएम गो कार्ट रेसिंग ट्रेक तक कारों की रैली भोपाल, 28 मार्च 2016। रातीबड़ स्थित राधारमण समूह परिसर में चल रही एशिया की सबसे बड़ी सोलर- इलेक्ट्रिक व्हीकल चैम्पियनशिप के तीसरे दिन क्वालीफाई कर पहंुचने वाली 36 कारों ने 200 मीटर के ट्रेक पर क्रॉस पैड और सोलर पैनल ड्राइव राउण्ड टेस्ट में अपना दमखम दिखाया। इन टेस्टों में जजेस ने कारों की ब्रेकिंग, स्टीयरिंग, स्टेबिलिटी, कार्नरिंग और ओवरआॅल हैण्डलिंग क्षमताओं के साथ साथ केवल सोलर पैनल के बल पर दूरी तय करने की काबिलियत को परखा। इस राउण्ड को सभी कारों ने सफलतापूर्वक पूरा कर कल आरपीएम इंटरनेशनल गो कार्ट रेस ट्रेक पर होने वाली फाइनल रेस में जगह बना ली। सीआईआई से मिली सौगात आज का दिन इस प्रतियोगिता में भाग ले रही सभी युवा इंजीनियरों के लिए कन्फेडरेशन आॅफ इंडियन इण्डस्ट्रीज, नईदिल्ली -सीआईआई- के डायरेक्टर रॉय जैकब की विजिट के रूप में खुशखबरी लेकर आया। विद्यार्थियों द्वारा बनाई गई इन कारों को देखने व उनके बारे में और अधिक जानने विशेष रूप से भोपाल आए श्री जैकब ने यहां पहुंचकर सभी टीमों से मुलाकात की। उन्होंने इन कारों का वजन और कम किये जाने तथा प्रदर्शन और लुक को बेहतर बनाने के सुझाव दिए ताकि इनका कमर्शियल उत्पादन संभव हो सके। मिला ग्लोबल एक्जीबिशन में भाग लेने का न्यौता विद्यार्थियों के ज्ञान व कारों की डिजाइनों से प्रभावित होकर उन्होंने अगले महीने 21 से 23 अप्रैल तक ग्रेटर नोयडा में आयोजित होने वाली ग्लोबल एक्जीबिशन आॅन सर्विसेस नामक प्रदर्शनी में इस रेस में भाग ले रहे चुनिंदा वाहनों को प्रदर्शित करने की पेशकश कर दी। दिल्ली में बैठक के लिए भी बुलाया साथ ही उन्होंने इस रेस के आयोजक - इम्पीरियल सोसायटी आॅफ इनोवेटिव इंजीनियर्स - के अध्यक्ष विनोद गुप्ता को इन कारों को बनाने वाले विद्यार्थियों के साथ नईदिल्ली में आयोजित होने वाली एक बैठक का न्यौता भी दिया। अगले साल होने वाले एक्स्पो की भी दी जानकारी इसके अतिरिक्त उन्होंने यह भी बताया कि अगले वर्ष नईदिल्ली के प्रगति मैदान में इंटरनेशनल ग्रीन मोबिलिटी एक्स्पो आयोजित किया जाएगा जिसमें ग्रीन एण्ड हैल्दी फ्यूचर कान्सेप्ट पर आधारित प्रायोगिक मॉडल पेश किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों और आयोजकों को इस एक्जीबिशन में भी भाग लेकर अपनी कॉन्सेप्ट को दुनिया के सामने लाना चाहिए। आॅटोमोबाइल कंपनियां लें युवा इंजीनियरों को साथ श्री जैकब ने कहा कि इलेक्ट्रिक वाहन निर्माता कंपनियों को ऐसे युवा इंजीनियरों को अपने साथ लेना चाहिए। इससे उन्हें रिसर्च एण्ड डेवलपमेंट पर कम खर्च और कम समय में ज्यादा अच्छे परिणाम मिलेंगे। चूंकि ये विद्यार्थी पिछले अनेक वर्षों से सोलर वाहनों पर काम कर रहे हैं इसलिए उन्हें इनकी दिक्कतों व समाधानों के बारे में अच्छा अनुभव है। ये रहे मौजूद श्री जैकब की विजिट के दौरान इस प्रतियोगिता के सह आयोजक राधारमण समूह के चेयरमेन आर आर सक्सेना, ग्रुप डायरेक्टर प्रोफेसर जे एल राणा तथा आयोजक इम्पीरियल सोसायटी आॅफ इनोवेटिव इंजीनियर्स के प्रेसीडेंट विनोद गुप्ता उपस्थित थे। कल होगा फाइनल मुकाबला मंगलवार को रातीबड़ स्थित आरपीएम इंटरनेशनल गो कार्ट रेसिंग ट्रेक पर सोलर-इलेक्ट्रिक वाहनों की इस चैम्पियनशिप का फाइनल राउण्ड संपन्न होगा। दो चरणों के इस राउण्ड में 36 कारें चैम्पियन बनने के लिए दौड़ लगाएंगी। पहले चरण मेें इन कारों को बिना रूके डेढ़ घंटे तक दौड़ना होगा जबकि अगले चरण में एक घण्टे तक दौड़ना होगा। इस दौरान जजेस इन वाहनों को विभिन्न कसौटियों पर कसकर देखेंगे और सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाली तीन कारों को प्रथम, द्वितीय व तृतीय पुरस्कार प्रदान किये जाएंगे। इंटरनेशनल आॅफ रोडिंग ड्राइवर निवित रहेंगे मौजूद रेस में भाग ले रही टीमों का हौसला बढ़ाने तथा उन्हें उपयोगी गुर सिखाने मंगलवार सुबह इंटरनेशनल आॅफ रोडिंग ड्राइवर निवित व्हसीन भी भोपाल आ रहे हैं। अपने प्रवास के दौरान भी सभी टीमों के कैप्टन्स व ड्राइवरों से मिलेंगे। साथ ही वे स्पर्धा के अंत में आयोजित पुरस्कार वितरण समारोह की अध्यक्षता भी करेंगे।

  More Detail
Current Event

आईएसआईई सोलर-इलेक्ट्रिक व्हीकल चैम्पियनशिप में आज हुए टेक्नीकल राउण्ड
26-03-2016

राधारमण समूह व इम्पीरियल सोसायटी अॉफ इनोवेटिव इंजीनियर्स का संयुक्त आयोजन भोपाल, 26 मार्च 2016। रातीबड़ स्थित राधारमण समूह परिसर में चल रही एशिया की सबसे बड़ी आईएसआईई सोलर इलेक्ट्रिक व्हीकल चैम्पियनशिप 2016 के दूसरे दिन इस चैम्पियनशिप में शामिल हो रहीं सभी 76 कारों का टैक्निकल इन्स्पेक्शन किया गया। इसके अतिरिक्त सभी टीमों ने जजों के सामने अपनी-अपनी कारों को बाजार में लाये जाने संबंधी प्रेक्टिकल बिजनेस प्लान और मार्केटिंग स्ट्रेटजी के प्रजेंटशन भी दिए। इन राउण्ड्स के दौरान आयोजक संस्था की ओर से विनोद गुप्ता एवं सह आयोजक की ओर से राधारमण समूह के ग्रुप डायरेक्टर प्रोफेसर जे एल राणा उपस्थित थे। टीमों ने की अपनी श्रेष्ठता सिद्ध बिजनेस प्लान के जरिए प्रतिभागियों ने बताया कि कैसे उनके वाहन कमर्शियल प्रोडक्शन के लिए तैयार हैं, उनकी क्या खूबियां हैं, क्यूं उन्हें उनके आयडिया के लिए एक स्टार्ट अप के रूप में फंडिंग मिलना चाहिए और किस तरह उनके द्वारा तैयार वाहनों में आसान बदलाव कर उन्हें आम जनता के उपयोग योग्य बनाया जा सकता है। यहां किया जा सकता है उपयोग प्रतिभागियों ने अपने प्रजेंटेशनों में बताया कि उनके वाहन एयरपोर्ट, जू, गोल्फ कोर्स, शैक्षिक संस्थानों के कैम्पस तथा बड़ी रिहायशी कालोनियों आदि में प्रयोग किये जा सकते हैं। अनुभवी जजों ने ली कड़ी परीक्षा टेक्नीकल राउण्ड में जिन मानदण्डों पर टीमों को परखा गया उनमें वाहनों में ड्रायवर की सेफ्टी, कारों का ब्रेकिंग-स्टीयरिंग-सस्पेंशन सिस्टम तथा विजन टेस्ट प्रमुख थे। जिन जजों ने उक्त दोनों राउण्ड को जज किया उनमंे टीवीएस मोटर्स से आए मनीष कुमार, एल एण्ड टी के ज्योति प्रसाद शेटे, डीसीएम इंजीनियरिंग के केतन जांगरा तथा एफईवी-नार्थ अमेरिका से आए हुजुफा भगत प्रमुख थे। कान्सेप्ट से प्रभावित सीआईआई नईदिल्ली के डायरेक्टर आ रहे भोपाल सोलर कारों में छिपी संभावनाओं और अच्छे भविष्य को देखते हुए सीआईआई, नईदिल्ली के डायरेक्टर राव जैकब रविवार को इस चैम्पियनशिप के आयोजकों व प्रतिभागियों से मिलने भोपाल आ रहे हैं। संभव है कि वे युवा इंजीनियरों के इस प्रयास में सरकार की भागीदारी व सहयोग के लिए सीआईआई की ओर से प्रस्ताव भेजें। साथ ही वे भारत सरकार की स्टार्ट अप एंटरप्रेनयोर योजना के लिए भी अनुशंसा कर सकते हैं। अंतरराष्ट्रीय आफ रोडिंग ड्रायवर निवित भी करेंगे शिरकत प्रतिभागियों का उत्साहवर्धन करने दुनिया के जाने माने आॅफ रोडिंग ड्रायवर एवं हाय परफारमेंस मोटर स्पोर्ट्स के निदेशक निवित व्हसीन सोमवार को भोपाल आ रहे हैं। वे नार्थ इंडिया के जाने माने कार मोडिफायर के रूप में भी ख्यात हैं। कल प्लेसमेंट ड्राइव भी चैम्पियनशिप के रेसिंग ट्रेक से बहुत से प्रतिभागी करियर के ट्रेक पर भी चले जाएंगे। इस हेतु आयोजकों ने देश की तीन दिग्गज कंपनियों को रविवार को प्लेसमेंट के लिए आमंत्रित किया है। इन कंपनियों में डीसीएम इंजीनियरिंग, अलाइड स्ट्रिप लिमिटेड तथा टैक इम्पीरियल शामिल हैं।

  More Detail
Current Event

सोलर-इलेक्ट्रिक पावर्ड कार चैम्पियनशिप आरंभ
24-03-2016

राधारमण समूह व इम्पीरियल सोसायटी अॉफ इनोवेटिव इंजीनियर्स का संयुक्त आयोजन भोपाल, 25 मार्च, 2016। राधारमण ग्रुप अॉफ इन्स्टीट्यूट्स परिसर में आज प्रदेश की पहली सौर ऊर्जा से चलने वाली कारों की प्रतिस्पर्धा - इलेक्ट्रिक-सोलर व्हीकल चैम्पियनशिप 2016- आरंभ हुई। 29 मार्च तक चलने वाली इस स्पर्धा का औपचारिक उद्घाटन राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के वाइस चांसलर प्रोफेसर पीयूष त्रिवेदी ने किया। इस अवसर पर कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि एवं ऊर्जा विकास निगम के मैनेजिंग डायरेक्टर मनु श्रीवास्तव तथा स्थानीय विधायक रामेश्वर शर्मा उपस्थित थे। साथ ही कार्यक्रम में इस चैम्पियनशिप की आयोजक संस्था इम्पीरियल सोसायटी आॅफ इनोवेटिव इंजीनियर्स के प्रेसीडेंट विनोद गुप्ता एवं सह आयोजक राधारमण समूह के चेयरमेन आर आर सक्सेना विशेष रूप से उपस्थित थे। प्रोफेसर पीयूष त्रिवेदी ने अपने उद्बोधन में कहा कि आने वाला समय सौर, पवन और जल ऊर्जा का रहेगा। पूरे विश्व में प्रदूषण की बढती समस्या ने के चलते हमें जल्द से जल्द ऐसे विकल्पों पर काम करना होगा। उन्होंने युवा इंजीनियरों से कहा कि वे इस दिशा में ज्यादा से ज्यादा ध्यान दें। 76 कारें दिखाएंगी अपना दमखम इम्पीरियल सोसायटी आॅफ इनोवेटिव इंजीनियर्स के प्रेसीडेंट विनोद गुप्ता ने बताया कि इस स्पर्धा का उद्देश्य युवा इंजीनियरों को अपनी प्रतिभा दिखाने का अवसर प्रदान करना तथा जनमानस में पर्यावरण को लेकर जागरूकता फैलाना है। उन्होंने बताया कि इस स्पर्धा में देश के 19 राज्यों के 55 शहरों से 76 कारें भाग ले रही हैं। इस प्रतियोगिता में राधारमण कॉलेज व मैनिट, भोपाल की टीमें भी भाग ले रही हैं। खुद को नहीं रोक पाए रामेश्वर शर्मा विशिष्ट अतिथि के रूप में पहुंचे स्थानीय विधायक रामेश्वर शर्मा ने जब मैदान पर जमा सोलर कारों को देखा तो वे अपने को रोक नहीं पाए और इनमें से एक कार में सवार होकर मैदान के चक्कर लगाने लगे। इस कार से उतरने के बाद उन्होंने बताया कि यह कारें वाकई रोमांचक हैं व इन्हें चलाने में उन्हें बहुत मजा आया। 40 से अधिक इंजीनियरिंग कालेजों की टीमें ले रहीं भाग इस इलेक्ट्रिक सोलर व्हीकल चैम्पियनशिप में भाग ले रहीं कारों को देश के 40 से अधिक इंजीनियरिंग कॉलेजों के स्टूडेंट्स ने बनाया है। इस प्रतियोगिता का निर्णय करने देश की जानी मानी अॉटोमोबाइल कंपनियों सहित आईआईटी-मद्रास व अन्य प्रमुख संस्थानों के विशेषज्ञ बतौर जज आ रहे हैं। पार्टिसिपेट करने वाले विद्यार्थियों ने कारों को अच्छा लुक देने के लिए सोलर पैनल को खुद डिजाइन किया है। उल्लेखनीय है कि इस प्रतियोगिता में अपनी जगह बनाने के लिए कुल 121 टीमों ने अपनी दावेदारी पेश की थी किंतु आरंभिक राउंड्स को पार कर केवल 76 कार्ट्स ही इस हेतु चुनी गईं। राधारमण ग्रुप अॉफ इन्स्टीट्यूट्स के चेयरमेन आर.आर. सक्सेना ने कहा कि बढ़ते हुए धूल, धुंए और ध्वनि प्रदूषण व उससे पैदा हो रही स्वास्थ्य तथा पर्यावरणीय दिक्कतों का समाधान निकाला जाना आवश्यक है। सोलर कारें व सोलर ऊर्जा से चलने वाले उपकरण इस क्षेत्र में उम्मीद की बहुत बड़ी किरण हैं। उन्होंने यह भी कहा कि यह प्रतियोगिता एक प्रतियोगिता न होकर आने वाले भविष्य की झांकी है।

  More Detail
Current Event

राधारमण में दौड़ेंगी सोलर पावर्ड कार्ट्स
22-03-2016

राधारमण समूह ने इम्पीरियल सोसायटी ऑफ इनोवेटिव इंजीनियर्स के साथ एक एमओयू साइन किया भोपाल। राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स परिसर में प्रदेश में पहली बार सौर ऊर्जा से चलने वाली कारों की प्रतिस्पर्धा देखने को मिलेगी। आगामी 25 से 29 मार्च तक चलने वाली इसइलेक्ट्रिक-सोलर व्हीकल चैम्पियनशिप 2016 भोपाल में चार दिनों तक दिखेगा सोलर पावर्ड कारों की रेस का रोमांच में भाग लेने देश के 19 राज्यों के 55 शहरों से 76 कार्ट्स भाग लेने आ रही हैं। इस प्रतियोगिता में राधारमण कॉलेज व मैनिट, भोपाल की टीमें भी भाग ले रही हैं। ऐसी ही अनेक गतिविधियों को आयोजित करने राधारमण समूह ने इम्पीरियल सोसायटी ऑफ इनोवेटिव इंजीनियर्स के साथ एक एमओयू साइन किया है। इम्पीरियल सोसायटी राधारमण में दौड़ेंगी सोलर पावर्ड कार्ट्सऑफ इनोवेटिव इंजीनियर्स के सहयोग से आयोजित हो रही इस इलेक्ट्रिक सोलर व्हीकल चैंपियनशिप में भाग ले रहीं कार्ट्स को देश के 40 से अधिक इंजीनियरिंग कॉलेजों के स्टूडेंट्स ने बनाया है। इस प्रतियोगिता का निर्णय करने देश की जानी मानी ऑटोमोबाइल कंपनियों सहित आईआईटी-मद्रास व अन्य प्रमुख संस्थानों के विशेषज्ञ बतौर जज आ रहे हैं। पार्टिसिपेट करने वाले विद्यार्थियों ने कारों को अच्छा लुक देने के लिए सोलर पैनल को खुद डिजाइन किया है। उल्लेखनीय है कि इस प्रतियोगिता में अपनी जगह बनाने के लिए कुल 121 टीमों ने अपनी दावेदारी पेश की थी किंतु आरंभिक राउंड्स को पार कर केवल 76 कार्ट्स ही इस हेतु चुनी गईं। राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स के चेयरमेन आर.आर. सक्सेना ने कहा कि बढ़ते हुए धूल, धुंए और ध्वनि प्रदूषण व उससे पैदा हो रही स्वास्थ्य तथा पर्यावरणीय दिक्कतों का समाधान निकाला जाना आवश्यक है। सोलर कारें व सोलर ऊर्जा से चलने वाले उपकरण इस क्षेत्र में उम्मीद की बहुत बड़ी किरण हैं। उन्होंने यह भी कहा कि यह प्रतियोगिता एक प्रतियोगिता न होकर आने वाले भविष्य की झांकी है। इसका औपचारिक उद्घाटन 25 मार्च को प्रदेश के ऊर्जा मंत्री राजेन्द्र शुक्ल करेंगे। इस अवसर पर मध्यप्रदेश ऊर्जा विकास निगम के प्रबंध संचालक मनु श्रीवास्तव, आरजीपीवी के वाइस चांसलर प्रोफेसर पीयूष त्रिवेदी तथा क्षेत्रीय विधायक रामेश्वर शर्मा उपस्थित रहेंगे।

  More Detail
Current Event

राधारमण के 28 विद्यार्थी डीविन ग्रुप में शॉर्टलिस्ट
15-03-2016

भोपाल। राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स के 28 विद्यार्थी देश की जानी मानी स्पेश्यिालिटी कन्स्ट्रक्शन प्रोडक्ट कंपनी डीविन ग्रुप में शॉर्टलिस्ट हुए हैं। कंपनी द्वारा हाल ही में समूह परिसर में एक पूल कैम्पस आयोजित किया गया था। इस कैम्पस में बीई सिविल व मैकेनिकल तथा एमबीए फायनेंस के विद्यार्थी सम्मिलित हुए थे। कंपनी अधिकारियों ने पावर पाइंट प्रजेंटेशन, रिटन टेस्ट व इन्टरव्यू के जरिए प्रतिभागियों की योग्यता एवं कौशल का परीक्षण किया तथा अंत में 28 विद्यार्थियों को अंतिम चयन प्रक्रिया के लिए शॉर्टलिस्ट किया। कंपनी द्वारा चयनित विद्यार्थियों को अच्छे पैकेज पर नियुक्ति प्रदान की जाएगी। राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स के चेयरमेन आर.आर. सक्सेना ने सभी विद्यार्थियों को उनके उज्जवल भविष्य के लिए शुभकामना दी है। उल्लेखनीय है कि देश विदेश की दिग्गज कंपनियां समूह में उपलब्ध योग्य विद्यार्थियों के चयन के लिए बड़ी संख्या में कैम्पस प्लेसमेंट के लिए आती हैं। इन प्लेसमेंट्स के जरिए यहां के विद्यार्थियों को 24 लाख रुपए सालाना तक के पैकेज पर नियुक्तियां प्राप्त हो चुकी हैं। समूह में विगत तीन वर्षों में 287 कंपनियों ने विजिट कर 3352 विद्यार्थियों को चयनित कर रोजगार प्रदान किया है।

  More Detail
Current Event

राधारमण में पावर सिस्टम पर एक्सपर्ट लेक्चर
09-03-2016

भोपाल। राधारमण इंजीनियरिंग कॉलेज में विगत दिवस पावर सिस्टम के क्षेत्र में हो रहे नवीनतम बदलावों पर एक एक्सपर्ट लेक्चर आयोजित किया गया। ख्यातिनाम शिक्षाविद् एवं आईआईटी, दिल्ली के पूर्व डायरेक्टर प्रोफेसर डी.पी. कोठारी ने यह लेक्चर दिया। उन्होंने जिन प्रमुख बिंदुओं पर चर्चा की उनमें ऊर्जा की मांग, उसकी पूर्ति के विकल्प, उपलब्ध विकल्पों का प्रबंधन तथा ऊर्जा उत्पादन में प्रयुक्त होने वाले पावर सिस्टम के क्षेत्र में हो रहे एडवांसमेंट प्रमुख थे। प्रोफेसर कोठारी ने कहा कि एनर्जी की बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए अब पवन, सौर तथा हायड्रो जैसे विकल्पों के क्षेत्र में ज्यादा शोध और अनुसंधान की जरूरत है। इस अवसर पर राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स के चेयरमेन आर.आर. सक्सेना ने कहा कि विद्यार्थी इंजीनियरिंग विद्यार्थियों को एक वैज्ञानिक व अविष्कारक की तरह सोचना चाहिए और ऐसी खोजें करना चाहिए जो न केवल पर्यावरण के अनुकूल हों बल्कि कम लागत के साथ साथ मौजूदा विकल्पों से बेहतर प्रदर्शन करने वाली हों। कार्यक्रम में समूह के ग्रुप डायरेक्टर प्रोफेसर जे.एल. राणा, डॉ. ए.आर. सिद्दिकी तथा डॉ. गायत्री अग्निहोत्री भी उपस्थित थे।

  More Detail
Current Event

विहान के रंग में रंगे मनोज तिवारी कहा राधारमण समूह के प्रयास सराहनीय
05-03-2016

भोपाल। राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स के राज्यस्तरीय वार्षिकोत्सव 2016 के विगत रात्रि भव्य समापन समारोह अवसर पर आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रमों की छटा आज जाने माने भोजपुरी फिल्म अभिनेता, गायक एवं दक्षिण पूर्व दिल्ली के सांसद मनोज तिवारी को भी अपने रंग में रंग लिया। देर रात तक चले इस कार्यक्रम में वे भी अपने आप को नहीं रोक पाए और अपने चुनिंदा गीतों की सुरमयी प्रस्तुति से जोरदार माहौल बना दिया। इन गीतों में गैंग्स ऑफ वसइपुर का जियो हो बिहार के लाला... षाहरूख खान की आने वाली फिल्म फैन का गीत दिलवा जबरजस्त फैन हो गईल... तथा गदर फिल्म का गीत मैं निकला गड्डी लेके सहित होली त्यौहार से जुड़े अनेक गीत जैसे होली खेलें रघुवीरा अवध में.... आदि प्रमुख थे। इस दौरान उनके साथ समूह के तीन विद्यार्थियों ललित मोहन, प्रणीता मिश्रा और विष्णु ने उनकर जमकर साथ दिया। इन गीतों को सुन दर्शक अपनी-अपनी जगह खड़े होकर नाचने लगे। श्री तिवारी नेे कार्यक्रम की भव्यता व विद्यार्थियों के शानदार प्रदर्शन को देख अपने उद्बोधन में राधारमण समूह के प्रयासों की सराहना की और इस बात पर आष्चर्य व्यक्त किया कि भोपाल के तकनीकी छात्रों में उनका इतना क्रेज है। उन्होंने कहा कि इन छात्रों का प्यार देख उन्हें अपने फिल्मी करियर की 20 साल की तपस्या सफल होने का अहसास हुआ। इस अवसर पर विद्यार्थियों के साथ उनका सेल्फी खिंचाने का लंबा दौर चला। उन्होंने इंजीनियरिंग के छात्रों से मिलकर यह भी कहा कि जिस देष में अच्छे इंजीनियरों का निर्माण हो रहा हो वहां प्रधानमंत्री के मेक इन इंडिया के स्वप्न को पूरा होने से कोई नहीं रोक सकता। समूह को शिक्षा जगत में और ऊंचा मुकाम हासिल करने की कामना की। इस अवसर पर उन्होंने समूह में 7वे सेमेस्टर में अध्ययनरन उन 150 विद्यार्थियों को भी सम्मानित किया जिनका प्लेसमेंट देश-दुनिया की दिग्गज कंपनियों में हो चुका है। साथ ही उन्होंने वार्षिकोत्सव में आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं के विजेताओं को भी पुरस्कृत किया। इसके अतिरिक्त समूह द्वारा उन षिक्षकों व कर्मचारियों को भी सम्मनित किया गया जिन्होंने समूह में 10 वर्ष की सेवा पूरी कर ली है। समूह के चेयरमेन आर.आर. सक्सेना ने श्री तिवारी को समूह की ओर से स्मृति चिन्ह भेंट किया। कार्यक्रम के दौरान वार्षिकोत्सव में भाग ले रहे प्रतिभागियों ने एक से बढ़कर एक रंगारंग प्रस्तुतियां दीं और दर्शकों की तालियां बंटोरी। इस कार्यक्रम में लगभग 5 हजार लोगों ने भाग लिया जिसमें समूह सहित प्रदेश के विभिन्न महाविद्यालयों के विद्यार्थी एवं उनके अभिभावक शामिल थे।

  More Detail
PREV 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15 16 17 18 19 20 21 22 23 24 25 26 27 28 29 30 31 32 33 34 NEXT