Media & Advet.

Media & Advet. / Current Events

Current Events

  • Vihan

  • Current Events

    IT Security and Network Seminar
  • Current Events

    Vihan Singing Competition
  • Current Events

    Vihan Guli Cricket
  • Current Events

    Vihan Dance Competition

 

Current Event

राधारमण में दौड़ेंगी सोलर पावर्ड कार्ट्स
22-03-2016

राधारमण समूह ने इम्पीरियल सोसायटी ऑफ इनोवेटिव इंजीनियर्स के साथ एक एमओयू साइन किया भोपाल। राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स परिसर में प्रदेश में पहली बार सौर ऊर्जा से चलने वाली कारों की प्रतिस्पर्धा देखने को मिलेगी। आगामी 25 से 29 मार्च तक चलने वाली इसइलेक्ट्रिक-सोलर व्हीकल चैम्पियनशिप 2016 भोपाल में चार दिनों तक दिखेगा सोलर पावर्ड कारों की रेस का रोमांच में भाग लेने देश के 19 राज्यों के 55 शहरों से 76 कार्ट्स भाग लेने आ रही हैं। इस प्रतियोगिता में राधारमण कॉलेज व मैनिट, भोपाल की टीमें भी भाग ले रही हैं। ऐसी ही अनेक गतिविधियों को आयोजित करने राधारमण समूह ने इम्पीरियल सोसायटी ऑफ इनोवेटिव इंजीनियर्स के साथ एक एमओयू साइन किया है। इम्पीरियल सोसायटी राधारमण में दौड़ेंगी सोलर पावर्ड कार्ट्सऑफ इनोवेटिव इंजीनियर्स के सहयोग से आयोजित हो रही इस इलेक्ट्रिक सोलर व्हीकल चैंपियनशिप में भाग ले रहीं कार्ट्स को देश के 40 से अधिक इंजीनियरिंग कॉलेजों के स्टूडेंट्स ने बनाया है। इस प्रतियोगिता का निर्णय करने देश की जानी मानी ऑटोमोबाइल कंपनियों सहित आईआईटी-मद्रास व अन्य प्रमुख संस्थानों के विशेषज्ञ बतौर जज आ रहे हैं। पार्टिसिपेट करने वाले विद्यार्थियों ने कारों को अच्छा लुक देने के लिए सोलर पैनल को खुद डिजाइन किया है। उल्लेखनीय है कि इस प्रतियोगिता में अपनी जगह बनाने के लिए कुल 121 टीमों ने अपनी दावेदारी पेश की थी किंतु आरंभिक राउंड्स को पार कर केवल 76 कार्ट्स ही इस हेतु चुनी गईं। राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स के चेयरमेन आर.आर. सक्सेना ने कहा कि बढ़ते हुए धूल, धुंए और ध्वनि प्रदूषण व उससे पैदा हो रही स्वास्थ्य तथा पर्यावरणीय दिक्कतों का समाधान निकाला जाना आवश्यक है। सोलर कारें व सोलर ऊर्जा से चलने वाले उपकरण इस क्षेत्र में उम्मीद की बहुत बड़ी किरण हैं। उन्होंने यह भी कहा कि यह प्रतियोगिता एक प्रतियोगिता न होकर आने वाले भविष्य की झांकी है। इसका औपचारिक उद्घाटन 25 मार्च को प्रदेश के ऊर्जा मंत्री राजेन्द्र शुक्ल करेंगे। इस अवसर पर मध्यप्रदेश ऊर्जा विकास निगम के प्रबंध संचालक मनु श्रीवास्तव, आरजीपीवी के वाइस चांसलर प्रोफेसर पीयूष त्रिवेदी तथा क्षेत्रीय विधायक रामेश्वर शर्मा उपस्थित रहेंगे।

  More Detail
Current Event

राधारमण के 28 विद्यार्थी डीविन ग्रुप में शॉर्टलिस्ट
15-03-2016

भोपाल। राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स के 28 विद्यार्थी देश की जानी मानी स्पेश्यिालिटी कन्स्ट्रक्शन प्रोडक्ट कंपनी डीविन ग्रुप में शॉर्टलिस्ट हुए हैं। कंपनी द्वारा हाल ही में समूह परिसर में एक पूल कैम्पस आयोजित किया गया था। इस कैम्पस में बीई सिविल व मैकेनिकल तथा एमबीए फायनेंस के विद्यार्थी सम्मिलित हुए थे। कंपनी अधिकारियों ने पावर पाइंट प्रजेंटेशन, रिटन टेस्ट व इन्टरव्यू के जरिए प्रतिभागियों की योग्यता एवं कौशल का परीक्षण किया तथा अंत में 28 विद्यार्थियों को अंतिम चयन प्रक्रिया के लिए शॉर्टलिस्ट किया। कंपनी द्वारा चयनित विद्यार्थियों को अच्छे पैकेज पर नियुक्ति प्रदान की जाएगी। राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स के चेयरमेन आर.आर. सक्सेना ने सभी विद्यार्थियों को उनके उज्जवल भविष्य के लिए शुभकामना दी है। उल्लेखनीय है कि देश विदेश की दिग्गज कंपनियां समूह में उपलब्ध योग्य विद्यार्थियों के चयन के लिए बड़ी संख्या में कैम्पस प्लेसमेंट के लिए आती हैं। इन प्लेसमेंट्स के जरिए यहां के विद्यार्थियों को 24 लाख रुपए सालाना तक के पैकेज पर नियुक्तियां प्राप्त हो चुकी हैं। समूह में विगत तीन वर्षों में 287 कंपनियों ने विजिट कर 3352 विद्यार्थियों को चयनित कर रोजगार प्रदान किया है।

  More Detail
Current Event

राधारमण में पावर सिस्टम पर एक्सपर्ट लेक्चर
09-03-2016

भोपाल। राधारमण इंजीनियरिंग कॉलेज में विगत दिवस पावर सिस्टम के क्षेत्र में हो रहे नवीनतम बदलावों पर एक एक्सपर्ट लेक्चर आयोजित किया गया। ख्यातिनाम शिक्षाविद् एवं आईआईटी, दिल्ली के पूर्व डायरेक्टर प्रोफेसर डी.पी. कोठारी ने यह लेक्चर दिया। उन्होंने जिन प्रमुख बिंदुओं पर चर्चा की उनमें ऊर्जा की मांग, उसकी पूर्ति के विकल्प, उपलब्ध विकल्पों का प्रबंधन तथा ऊर्जा उत्पादन में प्रयुक्त होने वाले पावर सिस्टम के क्षेत्र में हो रहे एडवांसमेंट प्रमुख थे। प्रोफेसर कोठारी ने कहा कि एनर्जी की बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए अब पवन, सौर तथा हायड्रो जैसे विकल्पों के क्षेत्र में ज्यादा शोध और अनुसंधान की जरूरत है। इस अवसर पर राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स के चेयरमेन आर.आर. सक्सेना ने कहा कि विद्यार्थी इंजीनियरिंग विद्यार्थियों को एक वैज्ञानिक व अविष्कारक की तरह सोचना चाहिए और ऐसी खोजें करना चाहिए जो न केवल पर्यावरण के अनुकूल हों बल्कि कम लागत के साथ साथ मौजूदा विकल्पों से बेहतर प्रदर्शन करने वाली हों। कार्यक्रम में समूह के ग्रुप डायरेक्टर प्रोफेसर जे.एल. राणा, डॉ. ए.आर. सिद्दिकी तथा डॉ. गायत्री अग्निहोत्री भी उपस्थित थे।

  More Detail
Current Event

विहान के रंग में रंगे मनोज तिवारी कहा राधारमण समूह के प्रयास सराहनीय
05-03-2016

भोपाल। राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स के राज्यस्तरीय वार्षिकोत्सव 2016 के विगत रात्रि भव्य समापन समारोह अवसर पर आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रमों की छटा आज जाने माने भोजपुरी फिल्म अभिनेता, गायक एवं दक्षिण पूर्व दिल्ली के सांसद मनोज तिवारी को भी अपने रंग में रंग लिया। देर रात तक चले इस कार्यक्रम में वे भी अपने आप को नहीं रोक पाए और अपने चुनिंदा गीतों की सुरमयी प्रस्तुति से जोरदार माहौल बना दिया। इन गीतों में गैंग्स ऑफ वसइपुर का जियो हो बिहार के लाला... षाहरूख खान की आने वाली फिल्म फैन का गीत दिलवा जबरजस्त फैन हो गईल... तथा गदर फिल्म का गीत मैं निकला गड्डी लेके सहित होली त्यौहार से जुड़े अनेक गीत जैसे होली खेलें रघुवीरा अवध में.... आदि प्रमुख थे। इस दौरान उनके साथ समूह के तीन विद्यार्थियों ललित मोहन, प्रणीता मिश्रा और विष्णु ने उनकर जमकर साथ दिया। इन गीतों को सुन दर्शक अपनी-अपनी जगह खड़े होकर नाचने लगे। श्री तिवारी नेे कार्यक्रम की भव्यता व विद्यार्थियों के शानदार प्रदर्शन को देख अपने उद्बोधन में राधारमण समूह के प्रयासों की सराहना की और इस बात पर आष्चर्य व्यक्त किया कि भोपाल के तकनीकी छात्रों में उनका इतना क्रेज है। उन्होंने कहा कि इन छात्रों का प्यार देख उन्हें अपने फिल्मी करियर की 20 साल की तपस्या सफल होने का अहसास हुआ। इस अवसर पर विद्यार्थियों के साथ उनका सेल्फी खिंचाने का लंबा दौर चला। उन्होंने इंजीनियरिंग के छात्रों से मिलकर यह भी कहा कि जिस देष में अच्छे इंजीनियरों का निर्माण हो रहा हो वहां प्रधानमंत्री के मेक इन इंडिया के स्वप्न को पूरा होने से कोई नहीं रोक सकता। समूह को शिक्षा जगत में और ऊंचा मुकाम हासिल करने की कामना की। इस अवसर पर उन्होंने समूह में 7वे सेमेस्टर में अध्ययनरन उन 150 विद्यार्थियों को भी सम्मानित किया जिनका प्लेसमेंट देश-दुनिया की दिग्गज कंपनियों में हो चुका है। साथ ही उन्होंने वार्षिकोत्सव में आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं के विजेताओं को भी पुरस्कृत किया। इसके अतिरिक्त समूह द्वारा उन षिक्षकों व कर्मचारियों को भी सम्मनित किया गया जिन्होंने समूह में 10 वर्ष की सेवा पूरी कर ली है। समूह के चेयरमेन आर.आर. सक्सेना ने श्री तिवारी को समूह की ओर से स्मृति चिन्ह भेंट किया। कार्यक्रम के दौरान वार्षिकोत्सव में भाग ले रहे प्रतिभागियों ने एक से बढ़कर एक रंगारंग प्रस्तुतियां दीं और दर्शकों की तालियां बंटोरी। इस कार्यक्रम में लगभग 5 हजार लोगों ने भाग लिया जिसमें समूह सहित प्रदेश के विभिन्न महाविद्यालयों के विद्यार्थी एवं उनके अभिभावक शामिल थे।

  More Detail
Current Event

आमंत्रण : भोजपुरी फिल्मों के लोकप्रिय अभिनेता, गायक एवं उत्तर-पूर्व दिल्ली संसदीय क्&#
04-03-2016

भोपाल : राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स की रातीबड़ स्थित परिसर में चल रहे राज्यस्तरीय वार्षिकोत्सव विहान 2016 के समापन कार्यक्रम में भाग लेने भोजपुरी फिल्मों के लोकप्रिय अभिनेता, गायक एवं उत्तर-पूर्व दिल्ली संसदीय क्षेत्र के सांसद श्री मनोज तिवारी 4 मार्च दोपहर 3.00 बजे भोपाल पधार रहे हैं। वे इस दौरान वार्षिकोत्सव के दौरान आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं के विजेताओं को पुरस्कृत करेंगे तथा विद्यार्थियों को संबोधित करेंगे। साथ ही वे इस अवसर पर उनके कुछ चुनिंदा गीतों पर प्रस्तुति भी देंगे। आप उक्त कार्यक्रम की प्रेस कवरेज हेतु सादर आमंत्रित हैं। आपकी सुविधा हेतु राधारमण समूह के 7 नंबर स्थित कार्यालय से कार्यक्रम स्थल तक आने-जाने हेतु वाहन व्यवस्था की गई है। यह वाहन दोपहर 2:45 बजे रातीबड़ के लिए प्रस्थान करेगा। इस संबंध और अधिक जानकारी के लिए आप मुझसे निम्नलिखित दूरभाष पर संपर्क कर सकते हैं। प्रकाश पाटिल जनसंपर्क अधिकारी राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स 8959011145

  More Detail
Current Event

राधारमण के विहान में तान्या और अरण्या के डांस ने बांधा समां
03-03-2016

भोपाल। राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स की रातीबड़ स्थित परिसर में चल रहे राज्यस्तरीय वार्षिकोत्सव विहान 2016 में आज सोलो व ग्रुप डांस की धूम रही। आस्ट्रेलिया की क्वीन्सलैण्ड यूनिवर्सिटी में पढ़ रही छात्रा तान्या सक्सेना द्वारा भरतनाट्यम के जरिए प्रस्तुत पगावल स्तुति को दर्शकों की जमकर तालियां मिलीं। तान्या ने विभिन्न मुद्राओं व भावभंगिमाओं के जरिए मनोहारी डांस पेश किया। उनकी इस स्तुति में माँ दुर्गा व भगवान कृष्ण के रूप देखने को मिले। उन्हें इस प्रस्तुति के लिए विशेष पुरस्कार प्रदान किया गया। उल्लेखनीय है कि तान्या अपनी यूनिवर्सिटी में एक बैण्ड का भी नेतृत्व करती हैं व एक अच्छी ड्रमर हैं तथा यूनिवर्सिटी की ओर से कई शो में भाग ले चुकी हैं। वहीं बिलाबोंग स्कूल की कक्षा 4 में पढ़ रही नन्ही नृत्यांगना अरण्या ने भी एक मंजी हुई नृत्यांगना की तरह अपनी प्रस्तुति देकर खूब सराहना बंटोरी। दिन भर चले इस कार्यक्रम में प्रतिभागियों ने क्लासिकल, कन्टेम्पररी व वेस्टर्न फार्म के अनेक डांस प्रस्तुत किए। सोलो डांस में सोनिया जेम्स ने राष्ट्रीयता व देशभक्ति से ओतप्रोत सलाम इंडिया थीम पर अपनी प्रस्तुति दी तो वहीं अभिजीत मिश्रा ने कन्टेम्पररी फार्म में अपना नृत्य प्रस्तुत किया। ग्रुप डांस के अंतर्गत सीएमबी ग्रुप ने वेस्टर्न डांस प्रस्तुत किया तथा ब्लाइंडर गन्स ने भी इसी फार्म पर अपनी प्रतिभा दिखाई। कार्यक्रम के अंत में समूह के ग्रुप डायरेक्टर प्रोफेसर जे.एल. राणा ने सभी प्रतिभागियों के प्रदश्र्रन की सराहना करते हुए कहा कि सांस्कृतिक गतिविधियां विद्यार्थियों में छिपी प्रतिभा को बाहर निकालने का काम करती हैं। साथ ही इन गतिविधियों के जरिए वे न सिर्फ नई ऊर्जा प्राप्त कर सकते हैं बल्कि अपने व्यक्तित्व को निखारने का काम भी बखूबी कर सकते हैं। कल समाप्त हो रहे इस वार्षिकोत्सव के समापन कार्यक्रम की अध्यक्षता करने जाने-माने गायक, भोजपुरी व हिन्दी फिल्म अभिनेता तथा सांसद मनोज तिवारी आ रहे हैं। इस अवसर पर वे पुरस्कार वितरण के साथ साथ अपने चुनिंदा गानों की प्रस्तुति भी देंगे।

  More Detail
Current Event

राधारमण के विहान में तान्या और अरण्या के डांस ने बांधा समां
03-03-2016

भोपाल। राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स की रातीबड़ स्थित परिसर में चल रहे राज्यस्तरीय वार्षिकोत्सव विहान 2016 में आज सोलो व ग्रुप डांस की धूम रही। आस्ट्रेलिया की क्वीन्सलैण्ड यूनिवर्सिटी में पढ़ रही छात्रा तान्या सक्सेना द्वारा भरतनाट्यम के जरिए प्रस्तुत पगावल स्तुति को दर्शकों की जमकर तालियां मिलीं। तान्या ने विभिन्न मुद्राओं व भावभंगिमाओं के जरिए मनोहारी डांस पेश किया। उनकी इस स्तुति में माँ दुर्गा व भगवान कृष्ण के रूप देखने को मिले। उन्हें इस प्रस्तुति के लिए विशेष पुरस्कार प्रदान किया गया। उल्लेखनीय है कि तान्या अपनी यूनिवर्सिटी में एक बैण्ड का भी नेतृत्व करती हैं व एक अच्छी ड्रमर हैं तथा यूनिवर्सिटी की ओर से कई शो में भाग ले चुकी हैं। वहीं बिलाबोंग स्कूल की कक्षा 4 में पढ़ रही नन्ही नृत्यांगना अरण्या ने भी एक मंजी हुई नृत्यांगना की तरह अपनी प्रस्तुति देकर खूब सराहना बंटोरी। दिन भर चले इस कार्यक्रम में प्रतिभागियों ने क्लासिकल, कन्टेम्पररी व वेस्टर्न फार्म के अनेक डांस प्रस्तुत किए। सोलो डांस में सोनिया जेम्स ने राष्ट्रीयता व देशभक्ति से ओतप्रोत सलाम इंडिया थीम पर अपनी प्रस्तुति दी तो वहीं अभिजीत मिश्रा ने कन्टेम्पररी फार्म में अपना नृत्य प्रस्तुत किया। ग्रुप डांस के अंतर्गत सीएमबी ग्रुप ने वेस्टर्न डांस प्रस्तुत किया तथा ब्लाइंडर गन्स ने भी इसी फार्म पर अपनी प्रतिभा दिखाई। कार्यक्रम के अंत में समूह के ग्रुप डायरेक्टर प्रोफेसर जे.एल. राणा ने सभी प्रतिभागियों के प्रदश्र्रन की सराहना करते हुए कहा कि सांस्कृतिक गतिविधियां विद्यार्थियों में छिपी प्रतिभा को बाहर निकालने का काम करती हैं। साथ ही इन गतिविधियों के जरिए वे न सिर्फ नई ऊर्जा प्राप्त कर सकते हैं बल्कि अपने व्यक्तित्व को निखारने का काम भी बखूबी कर सकते हैं। कल समाप्त हो रहे इस वार्षिकोत्सव के समापन कार्यक्रम की अध्यक्षता करने जाने-माने गायक, भोजपुरी व हिन्दी फिल्म अभिनेता तथा सांसद मनोज तिवारी आ रहे हैं। इस अवसर पर वे पुरस्कार वितरण के साथ साथ अपने चुनिंदा गानों की प्रस्तुति भी देंगे।

  More Detail
Current Event

राधारमण एनुअल मीट विहान 2016 में फैशन शो का जलवा
02-03-2016

भोपाल। राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स की राज्यस्तरीय एनुअल मीट विहान 2016 का आज समूह परिसर में झिलमिलाती रंगीन लाइटों से नहाए रैम्प पर मॉडल्स की तरह सजकर आए प्रतिभागियों ने रैम्प वॉक किया। कन्टेम्पररी से लेकर वेस्टर्न आउटफिट्स में तैयार होकर आए इन प्रतिभागियों ने बेकग्राउण्ड म्यूजिक की ताल पर ताल मिलाते हुए एक के बाद एक प्रस्तुति में दर्शकों को शानदार विजुअल ट्रीट दी। प्रतिभागियों की हेयरस्टाइल से लेकर आउटफिट्स से मैच खाती एसेसरीज के काम्बीनेशन ने इस फैशन शो को किसी बड़े व प्रोफेशनल फैशन शो का लुक प्रदान किया। विहान 2016 का दूसरा प्रमुख आकर्षण सोलो व डुएट सिंगिंग काम्पीटिशन रहा। इस कार्यक्रम में हिन्दी फिल्मों के नए व पुराने गीतों को प्रतिभागियों ने अपने-अपने अंदाज में पेश कर दर्शकों की तालियां बटोरीं। मोहम्मद रफी से लेकर सुनीधि चौहान तक विभिन्न प्लेबेक सिंगर्स द्वारा गाए गये सुमधुर गीतों की संगीतमयी यात्रा इस काम्पीटिशन में देखने को मिली। उक्त दोनों प्रतियोगिताओं को जाने माने थियेटर आर्टिस्ट व पीकू फिल्म के कलाकार श्री वालेन्दु, अभिनेता अखिलेश जैन दूरदर्शन की लोकप्रिय एंकर आशा फ्रेड जैसे विशेषज्ञों के निर्णायक मण्डल ने जज किया और श्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले प्रतियोगियों के नामों की घोषणा की। सोलो सांग का प्रथम पुरस्कार एलएनसीटी का छात्रा अपूर्वा पाटले को उनके द्वारा गाए गए गीत दीवानी मस्तानी पर मिला। वहीं द्वितीय पुरस्कार दिपेन सुंदरम को मिला। उन्होंने कैसी ये जिंदगानी गीत प्रस्तुत किया। डुएट वर्ग में ललित और दिपेन की जोड़ी प्रथम पुरस्कार विजेता रही जबकि अतुल और प्रणीता की जोड़ी को रनर अप पुरस्कार मिला। समूह के चेयरमेन आर.आर. सक्सेना ने बताया कि यह 1 मार्च से आरंभ हुई विहान 2016 कल्चरल कल्चरल मीट टेक्नीकल तथा आर्ट विला नामक तीन चरणों में संपन्न होगी। कल्चरल वर्ग में फैशन शो, सोलो सिंगिंग व डांसिंग, मिमिक्री तथा स्किल शामिल हैं जबकि टेक्नीकल वर्ग में क्विज, एक्टेम्पोर, लेन गेमिंग, डीबेट, फोटोग्राफी, पेपर प्रजेंटेशन तथा प्रोग्राम राइटिंग जैसी प्रतियोगिताएं देखने को मिलेंगी।

  More Detail
Current Event

राधारमण एनुअल मीट विहान 2016 का रंगारंग शुभारंभ
01-03-2016

भोपाल। राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स की राज्यस्तरीय एनुअल मीट विहान 2016 का आज समूह परिसर में भव्य शुभारंभ हुआ। चार दिनों तक चलने वाले इस आयोजन में प्रदेश के विभिन्न इंजीनियरिंग महाविद्यालयों के विद्यार्थी भाग अपनी.अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करेंगे। मीट का औपचारिक उद्घाटन आज सुबह एमपी काउंसिल ऑफ साइंस एण्ड टेक्नालॉजी के डायरेक्टर जनरल प्रोफेसर पीके वर्मा ने किया। मैनिटए भोपाल के डायरेक्टर डॉण् अप्पू कुट्टन ने इस कार्यक्रम की अध्यक्षता की। समूह के चेयरमेन आरण्आरण् सक्सेना ने अपने स्वागत भाषण में बताया कि यह कल्चरलए टेक्नीकल तथा आर्ट विला नामक तीन चरणों में संपन्न होगी। कल्चरल वर्ग में फैशन शोए सोलो सिंगिंग व डांसिंगए मिमिक्री तथा स्किल शामिल हैं जबकि टेक्नीकल वर्ग में क्विजए एक्टेम्पोरए लेन गेमिंगए डीबेटए फोटोग्राफीए पेपर प्रजेंटेशन तथा प्रोग्राम राइटिंग जैसी प्रतियोगिताएं देखने को मिलेंगी। मीट के पहले दिन आर्ट विला का आयोजन किया गया जिसमें विद्याथियों ने मेहंदीए रांगोलीए पेंटिंगए हेयर स्टाइलए फेस पेंटिंगए आर्ट डेकोरेशनए थाली डेकोरेशनए सलाद डेकोरेशन व नेल आर्ट आदि विधाओं में अपनी महारत का प्रदर्शन किया। मीट के अंतर्गत 2 मार्च को फैशन शो व सांग व डांस प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाएगा।

  More Detail
Current Event

राधारमण विद्यार्थियों का साइंस मॉडल पुरस्कृत
23-02-2016

भोपाल। राधारमण इन्स्टीट्यूट्स ऑफ टेक्नालॉजी एण्ड साइंस के सिविल इंजीनियरिंग ब्रांच के विद्यार्थियों के द्वारा हाल ही में मप्र विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी परिषद, भोपाल विज्ञान भारती, भोपाल द्वारा आयोजित इस मेले में संपन्न पांचवे विज्ञान मेले में प्रस्तुत साइंस मॉडल को विशेष पुरस्कार प्राप्त हुआ है। राधारमण विद्यार्थियों के इस मॉडल ने आरजीपीवी, बरकतउल्लाह यूनिवर्सिटी तथा मैनिट, भोपाल जैसे दिग्गज संस्थानों से मुकाबला करते हुए यह पुरस्कार हासिल किया है। उल्लेखनीय है कि इस मेले में प्रदेश के विभिन्न इंजीनियरिंग महाविद्यालयों व विश्वविद्यालयों के विद्यार्थियों ने नई तकनीक पर आधारित अपने-अपने प्रोजेक्ट प्रस्तुत किये थे। विगत 19 से 22 फरवरी तक इस मेले का आयोजन मध्यप्रदेश विज्ञान एवं प्रौद्यागिकी परिषद द्वारा किया गया था। महाविद्यालय के सिविल डिपार्टमेंट के प्रमुख पंकेज द्विवेदी के नेतृत्व में इस मेले में विद्यार्थियों ने अपने मॉडल पेश किये थे। महाविद्यालय की डायरेक्टर डॉ. गायत्री अग्निहोत्री ने इस उपलब्धि पर विद्यार्थियों को बधाई दी है।

  More Detail
Current Event

राधारमण में इण्डियन नेवी अवेयरनेस टॉक आयोजित
20-02-2016

भोपाल। राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूशंस में विगत दिवस इण्डियन नेवी द्वारा मोटीवेशन व अवेयरनेस टॉक का आयोजन किया गया। इण्डियन नेवी की वेस्टर्न नेवल कमाण्ड से आए कैप्टन जे.के. चौधरी ने इस दौरान विद्यार्थियों को भारतीय नौसेना के इतिहास व इसके विभिन्न अंगों में करियर के अवसरों के बारे में जानकारी प्रदान की। साथ ही उन्होंने विद्यार्थियों को जीवन में लक्ष्य निर्धारण और उस लक्ष्य तक पहुंचने के उपायों से जुड़े रोचक टिप्स भी दिए। समूह के सभी इंजीनियरिंग कॉलेजों की सभी ब्रांचों के विद्यार्थियों ने अटेण्ड किया। यह कार्यक्रम समूह के छठवें सेमेस्टर के विद्यार्थियों के लिए खासकर उपयोगी रहा जिसमें उन्हें यूईएस-17 योजना के जरिए इण्डियन नेवी में प्रवेश की प्रक्रिया के बारे में बताया गया। इस हेतु इस वर्ष जून माह में समाचार पत्रों में विज्ञापन प्रकाशित होगा। राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स के चेयरमेन आर.आर. सक्सेना ने कहा कि इण्डियन नेवी सचमुच ओशियन ऑफ ऑपरचूनिटीज है। यहां पहूंचकर विद्यार्थी न केवल शानदार करियर बना सकते हैं बल्कि काम के साथ साथ देश की सेवा भी कर सकते हैं।

  More Detail
Current Event

राधारमण में मेकेनिकल इंजीनियरिंग में करियर संभावनाओं पर सेमीनार आयोजित
18-02-2016

भोपाल। राधारमण इंजीनियरिंग कॉलेज में विगत दिवस सॉफ्टवेयर उद्योग में मेकेनिकल इंजीनियरिंग विद्यार्थियों के लिए करियर संभावनाएं विषय पर एक दिवसीय सेमीनार का आयोजन किया गया। आईईटीई स्टूडेंट फोरम द्वारा आयोजित इस सेमीनार में आईबीएम कंपनी, बैंगलोर के सीनियर मैनेजिंग कंसलटेंट डॉ. संदीप जैन ने अपने विचार व्यक्त किए। कार्यक्रम के आरंभ में कॉलेज के डायरेक्टर डॉ. आर.के. पाण्डे ने स्वागत भाषण दिया। डॉ. जैन ने कहा कि मैकेनिकल इंजीनियरिंग ब्रांच इंजीनियरिंग की सबसे पुरानी ब्रांच है जिसमें आज के दौर में बड़ी रोजगार संभावनाएं मौजूद हैं। कन्स्ट्रक्शन, एविएशन से लेकर इण्डस्ट्रियल प्रोडक्शन तक तमाम क्षेत्रों में इसकी मांग लगातार बढ़ रही है। रोचक बात यह है कि अब सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट के क्षेत्र में भी मेकेनिकल इंजीनियरों की बहुत मांग है। इसका कारण ज्यादातर डिजाइनों का कैड व कैम जैसे सॉफ्टवेयरों पर निर्माण होना है। इन सॉफ्टवेयरों का सहारा आजकल तकरीबन सभी तरह की उत्पादों के डिजाइन बनाने के लिए किया जाने लगा है। डिजाइनों के लेआउट, परफार्मेंंस एनालिसिस, डिजाइन यूटिलिटी व अन्य जरूरी पहलुओं को जांचने व परखने के लिए कम्प्यूटर सॉफ्टवेयरों का बड़े पैमाने पर इस्तेमाल होने से अब इन्हें इंजीनियरिंग पाठ्यक्रमों में भी शामिल किया जाने लगा है। इस अवसर पर राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स के चेयरमेन आर.आर. सक्सेना ने आईबीएम व आईईटीई स्टूडेंट फोरम का धन्यवाद करते हुए कहा कि इस सेमीनार से निसंदेह विद्यार्थियों को मेकेनिकल इंजीनियरिंग और सॉफ्टवेयर डेवलमेंट के बीच की महत्वपूर्ण कड़ी को जानने व समझने का मौका मिला।

  More Detail
Current Event

राधारमण में इण्डस्ट्रियल कम्प्यूटर सॉफ्टवेयर पर कार्यशाला संपन्न
15-02-2016

भोपाल। राधारमण इन्स्टीट्यूट्स ऑफ टेक्नालॉजी एण्ड साइंस (आरआईटीएस) में विगत दिवस बड़े और जटिल कार्यों व मशीनों के संचालन के लिए प्रयुक्त होने वाले इण्डस्ट्रियल कम्प्यूटरों में प्रयुक्त होने वाले प्रोग्रामेबल लॉजिक कन्ट्रोलर (पीएलसी) तथा सुपरवाइज्ड कन्ट्रोल एण्ड डाटा एक्विजिशन (स्केडा) विषय पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। इलेक्ट्रिकल एवं इलेक्ट्रॉनिक्स विषय के विद्यार्थियों के लिए आयोजित इस कार्यशाला को सॉफ्कान इण्डिया प्रायवेट लिमिटेड कंपनी से आए विषय विशेषज्ञों - कुलदीप मिश्रा व रुचि सिंघल - ने संबोधित किया। इन विशेषज्ञों ने बताया कि पीएलसी एक विशेष तरह का कम्प्यूटर सॉफ्टवेयर होता है जिसका काम मशीनी प्रक्रियाओं को नियंत्रित करने तथा लॉजिक व मैथ्स से जुड़े प्रोग्रामों को चलाने के लिए किया जाता है। वहीं स्केडा एक मानवीय प्रोग्राम है जो किसी कारखाने की प्रक्रिया व उसके नियंत्रण के बारे में जानकारी देता है। उन्होंने कहा कि बड़े पैमाने पर हो रहे मशीनीकरण के चलते इन दोनों के बिना किसी कारखाने में मशीनी कामकाज के बारे में सोचा भी नहीं जा सकता। इस क्षेत्र में करियर की बड़ी संभावनाएं मौजूद हैं। कार्यक्रम के आरंभ में सीनियर डायरेक्टर डॉ. गायत्री अग्निहोत्री ने इस कार्यशाला का औपचारिक उद्घाटन किया। समूह के चेयरमेन आर.आर. सक्सेना ने इस कार्यशाला को उपयोगी बताते हुए विद्यार्थियों से कहा कि वे संभावनाओं से भरे इस क्षेत्र में अपना करियर बनाने के बारे में सोच सकते हैं।

  More Detail
Current Event

राधारमण विद्यार्थियों ने किया निर्माणाधीन नए सचिवालय का भ्रमण
11-02-2016

भोपाल। राधारमण इन्स्टीट्यूट ऑफ टेक्नालॉजी एण्ड साइंस (आरआईटीएस)तथा राधारमण इन्स्टीट्यूट ऑफ रिसर्च एण्ड टैक्नोलॉजी के सिविल इंजीनियरिंग विषय के विद्यार्थियों ने विगत दिवस मौजूदा सचिवालय वल्लभ भवन के निकट ही बन रहे राज्य के नए सचिवालय की निर्माणाधीन इमारत का शैक्षिक भ्रमण किया। इस भ्रमण के दौरान विद्यार्थियों ने इस प्रोजेक्ट के सब इंजीनियर एल.एस. मौर्य से इस बहुमंजिला इमारत के निर्माण से जुड़े तकनीकी पहलुओं के बारे में जानकारी प्राप्त की। श्री मौर्य ने उन्हें क्वालिटी कंट्रोल सहित बिल्ंिडग के बहुत से तकनीकी एलीमेंट्स के बारे में विस्तार से बताया। साथ ही उन्होंने विद्यार्थियों द्वारा पूछे गए विभिन्न प्रश्नों के उत्तर भी दिए। कालेज की ओर से विद्यार्थियों के इस दल का नेतृत्व सिविल इंजीनियरिंग विभाग के प्रमुख पंकज द्विवेदी तथा आरआईआर टी के एचओडी केजी किरार ने किया। राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स के चेयरमेन आर.आर. सक्सेना ने कहा कि नए सचिवालय की इमारत प्रदेश का एक प्रतिष्ठित निर्माण है जिसे विश्वस्तरीय तकनीक व गुणवत्ता को ध्यान में रखकर बनाया जा रहा है। ऐसे निर्माणस्थल पर समूह के विद्यार्थियों का जाना व निर्माण की बारीकियों को समझना उनके ज्ञान को समृद्ध बनाएगा जिसका लाभ उन्हें आने वाले दिनों में बतौर इंजीनियर मिलेगा।

  More Detail
Current Event

राधारमण की छात्रा ने बनाया क्रांतिकारी और सस्ता हायड्रो पावर प्लांट
08-02-2016

भोपाल। राधारमण इन्स्टीट्यूट ऑफ रिसर्च एण्ड टेक्नालॉजी (आरआईआरटी) में मेकेनिकल इंजीनियरिंग फाइनल ईयर की छात्रा नैन्सी वर्मा ने अपनी इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी करने के पहले ही एक ऐसा हायड्रो पावर प्लांट कान्सेप्ट तैयार किया है जिसे भारत सरकार ने पेटेंट के लिए स्वीकार कर लिया गया है। नैन्सी का दावा है कि उनका डिजाइन बिजली बनाने में आने वाली बहुत सी मुश्किलों को आसान कर देगा। इसके इस्तेमाल से लागत में भारी कमी तो आएगी ही साथ ही इसे कम जगह में लगाया जा सकेगा इससे बिजली उत्पादन के लिए बनाए जाने वाले बड़े बांधों के चलते लोगों व चीजों को विस्थापित करने की जरूरत भी नहीं पड़ेगी। लखनऊ से वर्ष 2012 में भोपाल आकर राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स में प्रवेश लेने वाली नैन्सी ने अपनी पढ़ाई के दूसरे वर्ष अर्थात 2014 में अपने इस कान्सेप्ट पर काम करना शुरू किया व पेटेंट के लिए एप्लाई भी किया। इसके एक वर्ष बाद उन्हें पेटेंट का रेफरेंस नंबर अलाट हो गया तथा उन्हें अब फाइनल पेटेंट मिलने का इंतजार है। उन्होंने चैन्नई से पेटेंट के लिए एप्लाई किया है। 23 वर्षीय इस छात्रा का कहना है कि उन्होंने अपनी थ्योरी में छह मीटर आकार के एक जैसे चार रिजरवायर टैंक का इस्तेमाल किया है। प्रथम टैंक के ऊपरी हिस्से में एक रेम लगाई गई है जो बाहरी प्रेशर पैदा करती है। इस टैंक से जुड़े पेनस्टॉक से पानी बाहर निकलता है और टरबाइन पर जाकर गिरता है जिससे टरबाइन घूमने लगता है और बिजली पैदा होने लगती है। टरबाइन को टैंक से दो मीटर की ऊंचाई पर लगाया गया है। नैन्सी आगे बताती हैं कि टरबाइन से टकराने के बाद पानी एक अन्य पेनस्टॉक से होकर दूसरे टैंक में चला जाता है। और फिर पहले टैंक वाली प्रक्रिया दूसरे टैंक में आरंभ हो जाती है। दूसरे टैंक का पानी टरबाइन को घुमाने के बाद तीसरे टैंक में चला जाता है ओर यहां पुन: वही प्रक्रिया दोहराई जाती है जिसके बाद पानी चौथे टैंक में चला जाता है। चौथे टैंक में आने के बाद पानी पुन: पहले टैंक में चला जाता है और यह प्रक्रिया सतत चलती रहती है और बिजली उत्पन्न होती रहती है। इस तरीके से एक बांध से बनने वाली प्रति यूनिट बिजली जितनी ऊर्जा पैदा की जा सकती है। मौजूदा बांधों में टरबाइन रिजरवायर के निचले स्तर पर होता है जहां पेनस्टॉक से होकर पानी टरबाइन पर गिरता है जिससे बिजली पैदा होती है। नैन्सी ने बाहरी दबाव का इस्तेमाल पानी को टरबाइन तक भेजने में किया है। इस दबाव को जरूरत के मुताबिक कम या ज्यादा किया जा सकता है। बांधों में एक बार टरबाइन पर गिरने के बाद पानी का दोबारा इस्तेमाल नहीं हो पाता जबकि इस कान्सेप्ट में पानी का लगातार पुन: इस्तेमाल किया जा सकता है। इससे पानी की बचत होती है और ज्यादा पानी रोकने के लिए बांधों की ऊंचाई भी नहीं बढ़ाना पड़ती। नैन्सी कहती हैं कि उन्हें उनकी कान्सेप्ट से बिजली तैयार करने के लिए केवल 1000 वर्गमीटर जमीन की जरूरत है जोकि बड़े बांधों के लिए इस्तेमाल की जाने वाली हजारों एकड़ भूमि की तुलना में कुछ भी नहीं है। साथ ही उनकी कान्सेप्ट में बहुत कम पानी से बिजली उत्पादन किया जा सकता है। अपनी इस सफलता का श्रेय नैन्सी ने अपने कालेज राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स के चेयरमेन आर.आर. सक्सेना, तथा पिता रमेश कुमार वर्मा तथा माता मीरा वर्मा को दिया है जिन्होंने उन्हें सदैव प्रोत्साहित किया है।

  More Detail
Current Event

राधारमण विद्यार्थियों ने सीखा फज्जी एप्लीकेशन बनाना
03-02-2016

भोपाल। फज्जी लॉजिक कम्प्यूटिंग समस्याओं में अस्पष्ट मानवीय आकलन को शामिल कर प्रभावी व बेहतर विकल्प उपलब्ध कराता है। इलेक्ट्रिकल, मैकेनिकल, सिविल इंजीनियरिंग के साथ साथ इसका एयरोस्पेस, कृषि, जैविक चिकित्सा आदि अनेक क्षेत्र में बड़ा उपयोग हो रहा है। यह बात राधारमण इंजीनियरिंग कॉलेज में आयोजित फज्जी एप्लीकेशन विषय पर आयोजित एक सेमीनार के दौरान सिविल इंजीनियरिंग विभाग के प्रमुख डॉ. अजय प्रताप सिंह ने कही। उन्होंने बताया कि सिविल इंजीनियरिंग के विद्यार्थी इसका प्रयोग ट्राफिक इंजीनियरिंग, ट्राफिक फ्लो थ्योरी, मेंटेनेंस एवं मैनेजमेंट ऑफ रोड्स तथा ट्रांसपोर्टेशन प्लानिंग आदि क्षेत्रों में बखूबी कर सकते हैं। समूह के सिविल इंजीनियरिंग विषय के लिए आयोजित इस कार्यक्रम में बड़ी संख्या में विद्यार्थियों ने भाग लिया। राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीटयूट्स के चेयरमेन आर.आर. सक्सेना ने कहा कि समय-समय पर विशेष रूप से आयोजित होने वाले इन शैक्षिक कार्यक्रमों से विद्यार्थियों को प्रेक्टिकल नॉलेज पाने का अवसर प्राप्त होता है।

  More Detail
Current Event

राधारमण छात्रों ने की इण्डियन रेलवे की टेक्नीकल विजिट
30-01-2016

भोपाल। राधारमण इन्स्टीट्यूट ऑफ टेक्नालॉजी एण्ड साइंस तथा राधारमण इन्स्टीट्यूट ऑफ रिसर्च एण्ड टैक्नोलॉजी के बीई सिविल इंजीनियरिंग विद्यार्थियों के एक दल ने हाल ही में भारतीय रेलवे के अंतर्गत हवीबगंज रेलवे स्टेशन ट्रेफिक विभाग का दौरा किया। इस दौरान उन्हें हवीबगंज रेलवे स्टेशन के सीनियर डीएसटीई गौरव सिंह एवं एसएसई सुयोग पुलब्रिकर एवं स्टेशन मेंटेनेंस अधिकारी अजय देशमुख के मार्गदर्शन में रेलगाडिय़ों के सुचारू आवागमन के लिए सिगनलिंग, इंटरलॉकिंग व अन्य ट्रेफिक नियंत्रण व्यवस्थाओं की जानकारी प्रदान की गई। साथ ही विद्यार्थियों को बीते वर्षों में इस क्षेत्र में हुए तकनीकी विकास व बदलावों से भी अवगत कराया गया। इस अवसर पर मौजूद अधिकारियों ने विद्यार्थियों की विभिन्न जिज्ञासाओं का भी समाधान किया। राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूट्स के चेयरमेन आर.आर. सक्सेना, डायरेक्टरयुवराज कृष्ण राणा, डायरेक्टर डॉ. गायत्री अग्निहोत्री, आरआईटीएस के एचओडी पंकज द्विवेदी तथा आरआईआर टी के एचओडी केजी किरार ने इस तकनीकी विजिट को संभव बनाने के लिए भारतीय रेल प्रशासन को धन्यवाद दिया है।

  More Detail
Current Event

राधारमण में एल्युमिनाय मीट संपन्न
25-01-2016

भोपाल। राधारमण ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूशंस परिसर में विगत दिवस एल्युमिनाय ्रमीट का आयोजन किया गया। इस मीट में समूह के इंजीनियरिंग के 2003 से लेकर अब तक के बैचों के विद्यार्थी बड़ी संख्या में शामिल हुए। खुशी, मौज मस्ती, रोमांच, भावुकता और पुरानी यादों को ताजा कर देने वाले अनेक भाव इस दौरान विद्यार्थियों के चेहरों पर देखे गए। फैकल्टी मेम्बर्स और वर्तमान विद्यार्थियों ने इन सभी का गर्मजोशी से स्वागत किया और इस अवसर को यादगार बनाने के लिए विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए। दिन भर चले इस आयोजन में बरसों से बिछुड़े दोस्त एक दूसरे के बारे में जानने-समझने और कॉलेज के दिनों की यादों को ताजा करते दिखे। एल्युमिनाय मीट के अध्यक्ष एवं समूह के 2007 के विद्यार्थी श्याम पाठक ने बताया कि वे राधारमण समूह का विद्यार्थी होने पर गर्व करते हैं। वर्तमान में वे एल एण्ड टी पावर समूह में 15 लाख रुपए के पैकेज पर नौकरी कर रहे हैं। वहीं एल्युमिनाय मीट समिति के सचिव पुष्पेन्द्र सिंह सिसोदिया ने बताया कि राधारमण में बतौर विद्यार्थी उन्होंने बहुत कुछ सीखा जिसका इस्तेमाल वे अपनी केनरा बैंक की नौकरी में बखूबी कर रहे हैं। इस अवसर पर समूह के चेयरमेन आर.आर. सक्सेना ने कहा कि वर्ष 2003 में समूह की स्थापना से लेकर आज तक लगातार होती उन्नति से वे बेहद खुश हैं तथा वे अब अपने फैकल्टी मेम्बर्स, कर्मचारियों एवं अधिकारियों के सहयोग से ऐसे प्रयास की ओर अग्रसर है जिससे राधारमण समूह का नाम न केवल हिन्दुस्तान बल्कि पूरी दुनिया में रोशन हो। कार्यक्रम में मौजूद समूह के ग्रुप डायरेक्टर प्रोफेसर जे.एल. राणा ने इस मीट में आए सभी पूर्व विद्यार्थियों को जीवन में और तरक्की करने तथा समूह का नाम रोशन करने का संदेश दिया। कार्यक्रम में समूह के डायरेक्टर्स, फैकल्टी मेम्बर्स सहित विभिन्न अधिकारी एवं कर्मचारी मौजूद थे।

  More Detail
Current Event

राधारमण फैकल्टीज ने सीखे टेक्नीकल पेपर राइटिंग के गुर
19-01-2016

भोपाल। राधारमण समूह द्वारा अपने फैकल्टी मेम्बर्स के स्किल्स को निखारने के लिए आयोजित की जा रही स्किल डेवलपमेंट श्रृंखला के अंतर्गत विगत दिवस टेक्नीकल पेपर राइटिंग विषय पर एक दिवसीय सेमीनार का आयोजन किया गया। इस सेमीनार में अंग्रेजी भाषा व कम्युनिकेशन स्किल्स विषय विशेषज्ञा डॉ. श्रृद्धा गौड़ ने फैकल्टी मेम्बर्स को बताया कि तकनीकी पेपर्स लेखन रोजाना के लेखन से हटकर एक अलग तरह का स्किल है। इसमें पारंगत होने के लिए फैकल्टी मेम्बर्स को अपने एकेडमिक ज्ञान को सही शब्दों तथा उपयुक्त शैली में पिरोना आना चाहिए। इसमें विशेषज्ञता हासिल करने के लिए उन्हें न केवल अपने लिखे को बारीकी से पढऩा और समझना चाहिए बल्कि जाने-माने विशेषज्ञों द्वारा लिखे गए पेपर्स को भी पढऩा चाहिए। कार्यक्रम के दौरान उन्होंने फैकल्टी मेम्बर्स की जिज्ञासाओं का समाधान भी किया। इस अवसर पर समूह के चेयरमेन आर.आर. सक्सेना ने इस सेमीनार को उपयोगी बताते हुए कहा कि ज्ञान का समुद्र अथाह है इसमें जो जितनी दूर तक डुबकी लगाता है उसके हाथ उतने ही मोती लगते हैं। उन्होंने फैकल्टी मेम्बर्स से कहा कि उन्हें नित अपने स्किल्स को और बेहतर बनाने का प्रयास करना चाहिए ताकि उनका व उनके विद्यार्थियों का स्तर और ऊंचा उठ सके

  More Detail
Current Event

राधारमण में फैकल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम संपन्न
14-01-2016

भोपाल। अपने फैकल्टी मेम्बर्स के टीचिंग स्किल्स(क्वालिटी) को बढ़ाने के उद्देश्य से राधारमण इंजीनियरिंग कॉलेज द्वारा विगत दिवस एक दिवसीय फैकल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम आयोजित किया गया। कॉलेज के सिविल इंजीनियरिंग विभाग के प्रमुख प्रोफेसर (डॉ.) अजय प्रताप सिंह इस कार्यक्रम के मुख्य वक्ता थे। हाऊ टू राइट टेक्नीकल रिसर्च पेपर विषय पर आधारित इस कार्यक्रम में फैकल्टी मेम्बर्स को वे टिप्स बताए गए जिनकी मदद से वे न केवल अपनी रिसर्च को और बेहतर बना सकते हैं बल्कि उनके अपने रिसर्च पेपर्स को इस तरह तैयार कर सकते हैं जिसका फायदा उनका अध्ययन करने वाले विद्यार्थियों या अन्य शोधकर्ताओं को मिल सके। इन टिप्स में अपने विषय को भली प्रकार समझाने, उसे रोचक व सटीक तरीके से समझाने, शोध से होने वाले लाभ व मिलने वाले समाधान आदि शामिल थे। इस कार्यक्रम में राधारमण समूह के चेयरमेन आर.आर. सक्सेना, ग्रुप डायरेक्टर प्रोफेसर जे.एल. राणा, सीनियर डायरेक्टर डॉ. गायत्री अग्निहोत्री आदि उपस्थित थे। प्रोफेसर जे.एल. राणा ने इस अवसर पर अपने संबोधन में कहा कि सीखना, समझना और शोध करते रहना एक शिक्षक के जीवन के अभिन्न अंग हैं। इन तीनों पर जो शिक्षक जितना काम करता है उसका कार्य उतना ही अधिक निखरता है और उसके विद्यार्थी और से हटकर प्रदर्शन करते दिखाई देते हैं।

  More Detail
PREV 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15 16 17 18 19 20 21 22 23 24 25 26 27 28 29 30 31 32 33 34 35 NEXT