Media & Advet.

Media & Advet. / Current Events

Current Events

  • Vihan

  • Current Events

    IT Security and Network Seminar
  • Current Events

    Vihan Singing Competition
  • Current Events

    Vihan Guli Cricket
  • Current Events

    Vihan Dance Competition

 

Current Event

राधारमणमें पांच दिवसीय 4 जी ट्रेनिंग आरंभ
14-10-2019

राधारमणमें पांच दिवसीय 4 जी ट्रेनिंग आरंभ भोपाल। राधारमण समूह में आज से वर्किंग इंजीनियर्स तथा विद्यार्थियों के लिए पांच दिवसीय शाॅर्ट टर्म 4 जी टेक्नालाॅजी प्रशिक्षण कार्यक्रम आरंभ हुआ। इस कार्यक्रम में आईआईटी, एनआईटी तथा उद्योग जगत के दिग्गज विशेषज्ञ आज के दौर में उद्योगों में इस्तेमाल हो रही टेक्नालाॅजी तथा भविष्य में आने वाले बदलावों के बारे में प्रशिक्षण प्रदान कर रहे हैं। आरजीपीवी के डीन डाॅ. मुकेश पांडेय उद्घाटन सत्र के मुख्य अतिथि थे। उन्होंने अपने उद्बोधन में 4 जी टेक्नालाॅजी के बारे में चर्चा करते हुए कहा कि पहले जहां कारखानों में ज्यादातर मशीनें मैनुअल तरीके से चलाई जाती थीं लेकिन बीते वर्षों में सूचना तकनीक व कम्प्यूटर भी इनसे जुड़ गए हैं जिससे उत्पादकता व गुणवत्ता दोनों में ही सकारात्मक परिवर्तन देखने को मिल रहे हैं। ट्रेनिंग प्रोग्राम के पहले दिन आईआईटी बीएचयू से आज विशेषज्ञ डाॅ. एस के शर्मा ने लीन मैन्युफैक्चरिंग, जस्ट इन टाइम टेक्नालाॅजी तथा टोयोटा प्रोडक्शन के बारे में जानकारी दी। समूह के चेयरमेन आर आर सक्सेना ने अपने उद्बोधन में कहा कि मशीनों और कम्प्यूटर टेक्नालाॅजी के गठजोड़ के इस समय में मशीनें अब आर्टिफिश्यल इंटेलीजेंस से लैस हो रही हैं और बहुत से निर्णय स्वयं लेने में सक्षम हो रही हैं। यह एक ऐसा दौर है जो विज्ञान के चमत्कारों से भरा हुआ है। इस दौर में इंजीनियरिंग भी नए बदलावों के अनुरूप अपने को ढाल रही है।

  More Detail
Current Event

राधारमण में विद्यार्थी व इंजीनियरिंग प्रोफेशनल्स सीखेंगे 4 जी मैन्युफैक्चरिंग टेक्नालाॅजी
11-10-2019

राधारमण में विद्यार्थी व इंजीनियरिंग प्रोफेशनल्स सीखेंगे 4 जी मैन्युफैक्चरिंग टेक्नालाॅजी भोपाल। राधारमण समूह के विद्यार्थी उद्योग जगत में आ रहे नवीनतम तकनीकी बदलावों को जानने के लिए 14 से 18 अक्टूबर तक एक खास टेेªनिंग प्रोग्राम में शामिल होंगे। एनआईटी व आईआईटी जैसे दिग्गज संस्थानों सहित उद्योग जगत के विशेषज्ञ यह प्रशिक्षण एमटेक विद्यार्थियों के साथ साथ इंजीनियरिंग प्रोफेशनल्स को देंगे। इस 4 जी मैन्युफेक्चरिंग टेक्नालाॅजी ट्रेंनिग प्रोग्राम में विभिन्न इंजीनियरिंग कॉलेजो के विद्यार्थी, शोधार्थी उपस्थित रहेंगे इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डॉक्टर मुकेश पांडे डीन आरजीपीवी और मुख्य वक्ता डॉ एस. के शर्मा प्रोफेसर मैकेनिकल इंजीनियरिंग आईआईटी बीएचयू वाराणसी से रहेंगे राधारमण इंजीनियरिंग काॅलेज के मैकेनिकल इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट, टेक्विप (टेक्निकल एजूकेशन क्वालिटी इम्प्रूवमेंट प्रोग्राम) तथा राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित किया जा रहा है। कार्यक्रम में 4 जी टेक्नालाॅजी के साथ साथ आॅटोमेशन व डाटा एक्सचेंज पर भी जानकारी प्रदान की जाएगी। रााधारमण समूह के चेयरमेन आर आर सक्सेना ने कहा कि आज के दौर में जिस तेजी से टेक्नालाॅजी में बदलाव आ रहे हैं ऐसे में यह जरूरी हो जाता है कि विद्यार्थियों को इन बदलावों को उद्योग जगत के विशेषज्ञों के साथ जोड़कर उनका ज्ञानवर्द्धन किया जाए। उद्योग जगत से सीधे रूबरू होने से विद्यार्थी उन कठिन बातों को भी सहजता से समझ लेते हैं जो उन्हें क्लासरूम में कठिन लगती हैं।

  More Detail
Current Event

राधारमण ग्रुप की फैकल्टी इंटरनेशनल कान्फ्रेंस में सम्मानित
09-10-2019

राधारमण ग्रुप की फैकल्टी इंटरनेशनल कान्फ्रेंस में सम्मानित भोपाल। राधारमण इंजीनियरिंग काॅलेज के सिविल डिपार्टमेंट के प्रमुख डॉक्टर अजय प्रताप सिंह को हाल ही में इंदौर में आयोजित दो दिवसीय अंतरराष्ट्रीय कान्फ्रेंस में विद्यार्थियों के लिए रोड सेफ्टी विषय पर लिखे गए रिसर्च आर्टिकल के लिए अवार्ड फोर प्रफेसर विथ ह्यूज पोटेंशीयल से सम्मानित किया गया। इस कान्फ्रेंस का आयोजन रिसर्च फाउंडेशन ऑफ इंडिया, वल्र्ड फेडरेशन ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी एवं डॉ. ए. पी.जे. के अब्दुल कलाम यूनिवर्सिटी के संयुक्त तत्वाधान में किया गया था। इस कार्यक्रम में राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, भोपाल के जनसंपर्क अधिकारी डाॅ. शशिरंजन अकेला विशेष अतिथि के रूप में उपस्थित थे। इस दौरान शिक्षा, समाजसेवा, स्वास्थ्य आदि कई क्षेत्रों में पूरे भारत में विशिष्ट कार्य करने वाली कई विभूतियों का सम्मान किया गया। डॉक्टर सिंह ने रोड सेफ्टी विषय पर लिखे अपने रीसर्च आर्टिकल में टेक्निकल खामियों की वजह से होने वाले रोड ऐक्सिडेंट्स से स्टूडेंट्स को अवगत कराया। उन्होंने बहुत सारे रोड जीअमेट्रिक कैरिक्टरस्टिक्स जैसे कि अपर्याप्त साइट डिस्टेन्स, इक्सेस ग्रेडीयंट, इम्प्रॉपर डिजाइन ओफ वर्टिकल कर्व, घर्षण की कमी तथा पाट होल की अधिकता आदि को रोड ऐक्सिडेंट्स की बढ़ती संख्या के लिए जिम्मेदार ठहराया। साथ ही साथ प्रत्येक रोड के लिए प्रतिवर्ष रोड सेफ्टी ऑडिट करने की सिफारिश भी अपने लेख में की। राधारमण समूह के चेयरमेन आर आर सक्सेना ने डाॅ. सिंह को उनकी इस उपलब्धि के लिए शुभकामना देते हुए भविष्य में ऐसे और रिसर्च कार्यों को आगे बढ़ाने का आहवान किया है ताकि उनके इस कार्य से रोड एक्सीडेंट में होने वाली मौतों पर रोक लगाई जा सके।

  More Detail
Current Event

राधारमण में गांधी जयंती पर प्लास्टिक मुक्ति अभियान
03-10-2019

राधारमण में गांधी जयंती पर प्लास्टिक मुक्ति अभियान भोपाल। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के अवसर पर राधारमण ग्रुप में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये गए। समूह के विद्यार्थियों एवं फैकल्टी मेम्बर्स ने विभिन्न कार्यक्रम आयोजित कर गांधीजी को याद किया गया। इन कार्यक्रमों में सफाई अभियान, प्लास्टिक मुक्ति तथा सेमीनार सम्मिलित थे। साथ ही इस अवसर पर गांधीजी के जीवन पर आधारित एक शॉर्ट फिल्म का प्रदर्षन भी किया गया। विद्यार्थियों ने प्रण लिया हमारे आसपास कहीं भी सिंगल यूज प्लास्टिक अगर कोई इस्तेमाल करता है तो उसको इस्तेमाल करने से रोकेंगे एवं आम जनता को इसके दुष्परिणाम के बारे में अवगत कराएंगे इस अवसर पर समूह के सीनियर डायरेक्टर डाॅ. पी के लाहिरी ने विद्यार्थियों को बताया की एक रिपोर्ट की माने तो हर साल करीब 11 लाख समुद्री जीव-जंतु इस प्लास्टिक की वजह से मौत का शिकार हो जाते हैं। क्योंकि जब इस प्लास्टिक के टुकड़े समुद्र में पहुंचते है तो और कई जीव-जंतु खाना समझ कर इसका सेवन कर लेते है। जिसके काण उनकी मौत हो जाती है। 700 समुद्री जीव इस प्लास्टिक के कारण विल्प्त हो चुके है। जो हमारे लिए एक चिंता का विषय है। ऐसे कई उदाहरण देकर सिंगल यूज़ प्लास्टिक के खतरे के बारे में छात्रों को जानकारी दी समूह के चेयरमेन आर आर सक्सेना कहा कि गांधी जी प्रकृति और पर्यावरण के प्रति भी विशेष प्रेम रखते थे। उन्होंने पर्यावरण के प्रति सौ साल पहले ही वो चिंता व्यक्त की जो वर्तमान संदर्भ में प्रासंगिक है। गांधी जी का ये कथन पर्यावरण के प्रति उनकी चिंता साफ जाहिर करता है कि "प्रकृति के पास सभी की जरूरत पूरी करने के लिए पर्याप्त संसाधन हैं लेकिन वो किसी की लालच पूरी नहीं कर सकता।महात्मा गांधी के विचारों, उपदेषों और उनके द्वारा बताये गए मार्ग पर चलना ही उनको सच्ची श्रृद्धांजली होगी।

  More Detail
Current Event

राधारमण ग्रुप में पीपीपी माॅडल पर हुई चर्चा
28-09-2019

भोपाल। राधारमण इंजीनियरिंग कॉलेज में राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (आरजीपीवी ) द्वारा TEQIP-III (टेक्यूप-III) के अंतर्गत चल रहे फैकल्टी डेवलपमेंट कार्यक्रम मैं प्रायवेट पार्टनरशिप पर विषय विशेषज्ञ डाॅ. अरूण पालीवाल ने कार्यक्रम में भाग ले रहे फैकल्टी मेम्बर्स को जानकारी दी। डॉ. पालीवाल ने आज के समय में पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप की आवश्यकता और इस माॅडल के व्यावहारिक पहलुओं के बारे में बताया। उन्होंने सड़क निर्माण में इसके प्रयोग के बारे में चर्चा करते हुए बताया कि कैसे पीपीपी के माध्यम से पूरे देश में अधोसंरचना के क्षेत्र में उल्लेखनीय काम हुए। साथ ही साथ उन्होंने पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप टेक्निक में उपयोग होने विभिन्न शब्ब्दों व उनके अर्थ की भी विस्तारपूर्वक जानकारी दी। इसके अतिरिक्त उन्होंने प्रतिभागियों के प्रश्नों के उत्तर भी दिए। उल्लेखनीय है कि एक सप्ताह तक चलने वाले इस कार्यक्रम का आयोजन राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय द्वारा किया जा रहा है।

  More Detail
Current Event

राधारमण ग्रुप में वल्र्ड फार्मेसी दिवस मनाया गया
26-09-2019

राधारमण ग्रुप में वल्र्ड फार्मेसी दिवस मनाया गया भोपाल। राधारमण इन्स्टीट्यूट आॅफ फार्मास्युटिकल्स साइंसेस में विगत दिवस विश्व फार्मेसी दिवस मनाया गया। इस वर्ष यह दिवस सभी के लिए सुरक्षित व असरकारी दवाएं विषय पर केन्द्रित था। काॅलेज के निदेशक डाॅ. लवाकेश कुमार ओमरे ने इस अवसर विद्यार्थियों एवं फैकल्टी मेम्बर्स को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि एक फार्मासिस्ट का कार्य अत्यंत जिम्मेदारीपूर्ण होता है तथा वह सुरक्षित एवं असरकारक दवाओं के निर्माण की महत्वपूर्ण कड़ी होता है। समूह के निदेशक प्रोफेसर जे एल राणा ने कहा कि फार्मासिस्टों को अपनी रिसर्च से दवाओं का सस्ता और बेहतर गुणवत्तायुक्त बनाने की दिशा में काम करना चाहिए। कार्यक्रम के दौरान विद्यार्थियों ने पावर पाइंट प्रजेंटेशन दिया तथा स्वास्थ्य परीक्षण कर ब्लड ग्रुप व ब्लड प्रेशर जांचने का कार्य भी किया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि एवं समूह के चेयरमेन आर आर सक्सेना ने सभी को फार्मासिस्ट डे की शुभकामनाएं दी एवं छात्रों एवं टीचरों को फार्मेसी के क्षेत्र में खोज एवं अनुसंधान कार्य करने का आहवान किया।ताकि सस्ती एवं अच्छी दवाइयों का निर्माण हो सके समाज के हर वर्ग को इसका लाभ हो

  More Detail
Current Event

राधारमण में इन्फ्रास्ट्रक्चर इंजीनियरिंग पर फैकल्टी डेवलपमेंट कार्यक्रम
28-09-2019

राधारमण में इन्फ्रास्ट्रक्चर इंजीनियरिंग पर फैकल्टी डेवलपमेंट कार्यक्रम भोपाल। कैसे इंजीनियरिंग के जरिये न सिर्फ किसी शहर या देश में इन्फ्रास्ट्रक्चर तैयार होता बल्कि इसके जरिये कैसे देश की इकानाॅमी विकसित होती है - इस महत्वपूर्ण विषय पर आज से राधारमण इंजीनियरिंग काॅलेज में सात दिवसीय फैकल्टी डेवलपमेंट कार्यक्रम आरंभ हुआ। राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (आरजीपीवी ) द्वारा TEQIP-III (टेक्यूप-III) के अंतर्गत आयोजित कराये जा रहे इस कार्यक्रम का उद्देश्य फैकल्टी मेम्बर्स को इन्फ्रास्ट्राक्चर इंजीनियरिंग की बारीकियों और नए बदलावों से अवगत कराना है ताकि वे इस ज्ञान का इस्तेमाल विद्यार्थियों को बेहतर शिक्षा प्रदान करने में कर सकें। आरजीपीवी के वाइस चांसलर प्रोफेसर सुनील कुमार ने इस कार्यक्रम का औपचारिक उद्घाटन किया। प्रोफेसर सुनील कुमार जी ने इस फैकल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम को फैकल्टीज के लिए बहुत ही उपयोगी बताया साथ ही उन्होंने भोपाल शहर के इंफ्रास्ट्रक्चर को सुधारने के लिए प्रोग्राम में उपस्थित फैकल्टीज एवं छात्रों को अपने सुझाव देने के लिए प्रेरित किया l इस अवसर पर ग्रुप डायरेक्टर प्रोफेसर जे एल राणा सहित अनेक वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे। कार्यक्रम के पहले दिन विषय विशेषज्ञ एम के गुप्ता ने फैकल्टी मेम्बर्स को संबोधित किया। उन्होंने अपने संबोधन में ग्रामीण सड़कों की उपयोगिता व भूमिका पर चर्चा की। कार्यक्रम के अंत में प्रोग्राम के को ऑर्डिनेटर डॉ अजय प्रताप सिंह, विभाग अध्यक्ष सिविल डिपार्टमेंट ने एक क्विज प्रतियोगिता का आयोजन किया जिसमें इन्फ्रास्ट्रक्चर विषय पर सवाल पूछे गए। राधारमण समूह के चेयरमेन आर आर सक्सेना ने कहा कि आज हमारा देश अपने मजबूत इन्फ्रास्ट्रक्चर की बदौलत ही तेजी से प्रगति कर रहा है। हम किसी भी विकसित देश को ले लें वहां की तरक्की के पीछे मजबूत इन्फ्रास्ट्रक्चर को हम जरूर पाएंगे।

  More Detail
Current Event

राधारमण में इन्फ्रास्ट्रक्चर इंजीनियरिंग पर फैकल्टी डेवलपमेंट कार्यक्रम
24-09-2019

राधारमण में इन्फ्रास्ट्रक्चर इंजीनियरिंग पर फैकल्टी डेवलपमेंट कार्यक्रम भोपाल। कैसे इंजीनियरिंग के जरिये न सिर्फ किसी शहर या देश में इन्फ्रास्ट्रक्चर तैयार होता बल्कि इसके जरिये कैसे देश की इकानाॅमी विकसित होती है - इस महत्वपूर्ण विषय पर आज से राधारमण इंजीनियरिंग काॅलेज में सात दिवसीय फैकल्टी डेवलपमेंट कार्यक्रम आरंभ हुआ। राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (आरजीपीवी ) द्वारा TEQIP-III (टेक्यूप-III) के अंतर्गत आयोजित कराये जा रहे इस कार्यक्रम का उद्देश्य फैकल्टी मेम्बर्स को इन्फ्रास्ट्राक्चर इंजीनियरिंग की बारीकियों और नए बदलावों से अवगत कराना है ताकि वे इस ज्ञान का इस्तेमाल विद्यार्थियों को बेहतर शिक्षा प्रदान करने में कर सकें। आरजीपीवी के वाइस चांसलर प्रोफेसर सुनील कुमार ने इस कार्यक्रम का औपचारिक उद्घाटन किया। प्रोफेसर सुनील कुमार जी ने इस फैकल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम को फैकल्टीज के लिए बहुत ही उपयोगी बताया साथ ही उन्होंने भोपाल शहर के इंफ्रास्ट्रक्चर को सुधारने के लिए प्रोग्राम में उपस्थित फैकल्टीज एवं छात्रों को अपने सुझाव देने के लिए प्रेरित किया l इस अवसर पर ग्रुप डायरेक्टर प्रोफेसर जे एल राणा सहित अनेक वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे। कार्यक्रम के पहले दिन विषय विशेषज्ञ एम के गुप्ता ने फैकल्टी मेम्बर्स को संबोधित किया। उन्होंने अपने संबोधन में ग्रामीण सड़कों की उपयोगिता व भूमिका पर चर्चा की। कार्यक्रम के अंत में प्रोग्राम के को ऑर्डिनेटर डॉ अजय प्रताप सिंह, विभाग अध्यक्ष सिविल डिपार्टमेंट ने एक क्विज प्रतियोगिता का आयोजन किया जिसमें इन्फ्रास्ट्रक्चर विषय पर सवाल पूछे गए। राधारमण समूह के चेयरमेन आर आर सक्सेना ने कहा कि आज हमारा देश अपने मजबूत इन्फ्रास्ट्रक्चर की बदौलत ही तेजी से प्रगति कर रहा है। हम किसी भी विकसित देश को ले लें वहां की तरक्की के पीछे मजबूत इन्फ्रास्ट्रक्चर को हम जरूर पाएंगे।

  More Detail
Current Event

राधारमण में फाइबर आॅप्टिक्स पर सेमीनार आयोजित
19-09-2019

राधारमण में फाइबर आॅप्टिक्स पर सेमीनार आयोजित भोपाल। फाइबर ऑप्टिक तकनीक कई हवाई और अंतरिक्ष प्लेटफार्मों में उपयोग के लिए महत्वपूर्ण प्रगति कर रही है। इनमें से कई अनुप्रयोगों में सिस्टम में एकीकरण शामिल है जो उच्च बैंडविड्थ सिग्नल ट्रांसमिशन के लिए ऑप्टिकल फाइबर का व्यापक उपयोग करते हैं। कई वर्तमान वायु और अंतरिक्ष प्लेटफॉर्म जो फाइबर ऑप्टिक सिस्टम का उपयोग करते हैं, उनमें वाणिज्यिक और सैन्य विमान, मानव रहित विमान, अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन और कई नासा और अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष अन्वेषण प्रणालियां शामिल हैं। यह जानकारी राधारमण समूह में इंजीनियरिंग सेकंड ईयर के विद्यार्थियों के लिए आयोजित एक सेमीनार में दो दशकों से अधिक का अनुभव रखने वाले एसटीएल अकादमी के डीन प्रोफेसर इन्द्रनील घोसल ने दी। उन्होंने बताया कि फाइबर आॅप्टिक्स के क्षेत्र में करियर की बड़ी संभावनाएं मौजूद हैं। यदि विद्यार्थी इस विषय के गहन अध्ययन की ओर जाएं तो वे रिसर्च से लेकर डेवलपमेंट तक विभिन्न क्षेत्रों में न सिर्फ अच्छे पैकेज वाली नौकरियां पा सकते हैं बल्कि स्वरोजगार के क्षेत्र में भी बेहतरीन करियर बना सकते हैं। राधारमण समूह के चेयरमेन आर आर सक्सेना ने कहा कि बीते दौर की तुलना में आज के युवाओं के समक्ष रोजगार के अनेक विकल्प मौजूद हैं। अतएव उन्हें अपनी पसंद व रूचि के अनुसार ऐसे विषयों का चयन करना चाहिए जिसमें वे अपनी प्रतिभा का श्रेष्ठ प्रदर्शन कर सकें।

  More Detail
Current Event

राधारमण समूह ने किया 150 यूनिट ब्लड डोनेशन
17-09-2019

राधारमण समूह ने किया 150 यूनिट ब्लड डोनेशन भोपाल। राधारमण इन्स्टीट्यूट आॅफ टेक्नालाॅजी एंड साइंस व भारतीय रेडक्रास सोसायटी जिला शाखा भोपाल द्वारा आज राधारमण आयुर्वेदिक मेडीकल रिसर्च हाॅस्पिटल परिसर में एक दिवसीय रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया। इस शिविर में 150 विद्यार्थियों एवं के सभी सदस्यों ने स्वैच्छिक रक्तदान किया। इस शिविर में छात्र एवं छात्राएं दोनो ने बढ़चढकर हिस्सा लिया। इस अवसर पर रेडक्रास से आए अधिकारियों ने बताया कि कोई भी स्वस्थ व्यक्ति तीन माह में एकबार रक्तदान कर सकता है। उन्होंने यह भी बताया कि रक्तदान से न तो किसी तरह की कमजोरी आती है और न ही शरीर को कोई नुकसान होता है। दिये गए रक्त की भरपाई भी अगले 24 घंटों में हो जाती है। इस अवसर पर हमीदिया अस्पताल की पैथोलाॅजी विभाग के प्रमुख डाॅ. पुनीत टंडन, राधारमण समूह के वाइस चेयररमेन भूपेन्द सिंह पटेल, ग्रुप डायरेक्टर डॉ जेल राणा, डॉ. लवकेश उमरे , आरआईटीएस के डायरेक्टर आर के पांडे,डीन एसबी खरे तथा राधारमण आयुर्वेदिक काॅलेज की उप अधीक्षिका डाॅ. गायत्री तैलंग मौजूद रहे। इस अवसर पर राधारमण समूह के चेयरमेन आर आर सक्सेना ने कहा कि रक्तदान जीवनदान होता है। हम अपना रक्त देकर किसी जरूरतमंद व्यक्ति की जान बचा सकते हैं। दुर्घटनाग्रस्त एवं किसी गंभीर बीमारी से गुजर रहे लोगों को इसकी सबसे ज्यादा जरूरत होती है।

  More Detail
Current Event

राधारमण में फैकल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम 23 सितंबर से
14-09-2019

प्रोग्राम 23 से 27 सितंबर तक चलेगा। ट्रेनिंग प्रोग्राम आरजीपीवी द्वारा TEQIP-III (टेक्यूप-III) के तहत प्रायोजित किया है भोपाल। वक्त और उद्योग जगत की मांग के अनुसार टीचिंग स्किल्स में भी बदलाव आता है। जो संस्थान अपने फैकल्टी मेम्बर्स को इन स्किल्स से अपडेट रखते हैं उनके छात्र न केवल पढ़ाई के दौरान संस्थान का नाम रोशन करते हैं, बल्कि उसके बाद शानदार प्लेसमेंट या स्वयं का कारोबार स्थापित कर ख्याति प्राप्त करते हैं। इसी के मद्देनजर राधारमण समूह में एक सप्ताह के फैकल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम आयोजित किया जा रहा है। यह प्रोग्राम 23 से 27 सितंबर तक चलेगा। ट्रेनिंग प्रोग्राम आरजीपीवी द्वारा TEQIP-III (टेक्यूप-III) के तहत प्रायोजित किया है, जिसका विषय रोल ऑफ इंफ्रास्ट्रक्चर इंजीनियरिंग इन द डेवलपमेंट ऑफ इंडियन इकनॉमी है। समूह के चेयरमैन आरआर सक्सेना ने बताया कि उनका समूह अपने फैकल्टी मेम्बर्स से लेकर छात्रों तक को लेटेस्ट नॉलिज से अपडेट रखने के लिए वर्षभर विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन करता रहता है। इन कार्यक्रमों का उद्देश्य समूह में विश्वस्तरीय ज्ञान का प्रकाश फैलाना है, जिससे फैकल्टी व छात्र दोनों ही लाभान्वित हो सकें। ऐसे कार्यक्रम ज्ञान के स्तर को उपर ले जाते हैं तथा काम्पीटिशन में आगे बनाये रखने में मदद करते हैं। प्रोग्राम पर अधिक जानकारी देते हुए कॉर्डिनेटर डॉ अजय प्रताप सिंह ने बताया कि इस फैकल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम का उद्देश्य इंफ्रास्ट्रक्चर इंजीनियरिंग के क्षेत्र में काम करने वाले डिजाइन, अनुसंधान और प्रैक्टिसिंग इंजीनियरों और शिक्षाविदों को एक साथ लाना है। साथ ही सस्टेनेबल इंफ्रास्ट्रक्चर के क्षेत्र में हुए नवीनतम विकास को भी बढ़ाना है। इस कार्यक्रम में सिविल इंजीनियर, इंफ्रास्ट्रक्चर इंजीनियर, इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट में कार्यरत गर्वमेंट ऑफिसर्स, शिक्षाविद्, इंजीनियरिंग कॉलेजों के फैकल्टीज, इंफ्रास्ट्रक्चर ग्रोथ ऑफ इंडिया विषय पर काम कर रहे शोधकर्ता, सिविल इंजीनियरिंग के छात्र हिस्सा ले सकते हैं। इसमें हिस्सा लेने वाले इच्छुक अभ्यर्थी apsmact@gmail.com, या fdp@radhramanbhopal.com पर फॉर्म भेज सकते हैं। इससे जुड़ी अधिक जानकारी के लिए राधारमण समूह के वेबसाइट पर संपर्क किया जा सकता है।

  More Detail
Current Event

राधारमण समूह के 10 छात्र जारो एजुकेशन में शॉर्टलिस्टेड - फाइनल राउंड के बाद छात्रों को मिलेगा रु. 12 लाख का पैकेज।
11-09-2019

राधारमण समूह के 10 छात्र जारो एजुकेशन में शॉर्टलिस्टेड - फाइनल राउंड के बाद छात्रों को मिलेगा रु. 12 लाख का पैकेज। भोपाल। कोर इंजीनियरिंग के क्षेत्र में अनडिस्प्युटेड लीडर माने जाने वाले राधारमण समूह के 10 छात्र अग्रणी एजुटेक कंपनी जारो एजुकेशन द्वारा शॉर्टलिस्ट किए गए हैं। बीई और एमबीए 2020 बैच के छात्रों के लिए आयोजित इस कैंपस में 200 से अधिक छात्रों ने हिस्सा लिया। कंपनी की ओर से अाए अधिकारियों ने ग्रुप डिस्कशन और पर्सनल इंटरव्यू के माध्यम से छात्रों के ज्ञान एवं कौशल का परीक्षण किया। इन राउंड्स के सफलतापूर्वक पार करने वाले 10 छात्रों को कंपनी ने शॉर्टलिस्ट किया। यह छात्र फाइनल राउंड में हिस्सा लेंगे और अंतिम रूप से सफल छात्रों को रु. 12 लाख प्रतिवर्ष के पैकेज पर चयनित किया जाएगा। राधारमण समूह के चेयरमैन आरआर सक्सेना ने कहा कि समूह की बढ़ती हुई लोकप्रियता तथा यहां से मिल रहे योग्य उम्मीदवारों के चलते अब विदेशी कंपनियां भी बड़ी संख्या में अपने कैंपस समूह परिसर में आयोजित कर रही हैं। उन्होंने कहा कि यह बात न केवल समूह बल्कि प्रदेश के लिए भी प्रसन्नता का विषय है। समूह अपनी शैक्षिक गुणवत्ता तथा इंडस्ट्री की मांग के अनुरूप स्किल डेवलपमेंट के जरिए ही इस मुकाम तक पहुंचा है। इन प्रयासों को समूह आगे भी जारी रखेगा उल्लेखनीय है कि राधारमण समूह में विगत तीन वर्षाें में 520 कंपनियों ने कैंपस प्लेसमेंट का आयोजन किया है, जिसमें 5382 छात्रों का चयन हुआ है। इनमें अधिकतम पैकेज 24 लाख रुपए सालाना तक का रहा है। यही कारण है कि हाल ही में देश की प्रतिष्ठित मैगजीन इंडिया टुडे के आॅल इंडिया सर्वे में राधारमण समूह को देश में आठवां स्थान न्यूनतम फीस में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा श्रेणी में प्राप्त हुआ था।

  More Detail
Current Event

राधारमण विद्यार्थी को एनपीटीएल में मिला गोल्ड
05-09-2019

राधारमण विद्यार्थी को एनपीटीएल में मिला गोल्ड राष्टीय स्तर की परीक्षा को फस्र्ट रेंक में 95 प्रतिशत अंकों के साथ उत्तीर्ण किया भोपाल। राधारमण समूह के एमटेक-सीएसई विद्यार्थी दीपेन्द्र भूषण को हाल ही में आयोजित नेशनल प्रोग्राम आॅन एनहान्स्ड लर्निंग यानि एनपीटीएल सर्टिफिकेट परीक्षा में गोल्ड टाॅपर घोषित किया गया है।सोशल नेटवर्किंग विषय पर आधारित राष्टीय स्तर की परीक्षा में 95 प्रतिशत अंकों के साथ फस्र्ट रेंक हासिल करी इस प्रतिष्ठित परीक्षा में देश के विभिन्न आईआईटी व अन्य संस्थानों के विद्यार्थी बड़ी संख्या में भाग लेते हैं। केन्द्रीय मानव संसाधन विभाग द्वारा वित्तीय सहायता प्राप्त इस परीक्षा का उद्देश्य विद्यार्थियों को उद्योग जगत की मांग के अनुसार तैयार तथा और एडवांस्ड कोर्सेस के लिए सक्षम बनाना है। राधारमण समूह के चेयरमेन आर आर सक्सेना ने दीपेन्द्र की इस उपलब्धि की सराहना करते हुए कहा है कि काॅलेज स्तर पर विश्वस्तरीय शैक्षणिक सुविधाएं एवं उच्च शिक्षित व अनुभवी फैकल्टी मेम्बर्स का मार्गदर्शन निश्चित रूप से विद्यार्थियों की भीतरी क्षमताओं को बेहतर तरीके से बाहर लाने का काम करते हैं। राधारमण समूह के छात्र दीपेन्द्र जैसे अनेक विद्यार्थी इस बात का जीवंत उदाहरण हैं।

  More Detail
Current Event

राधारमण ने किया एमएसएमई से करार
22-08-2019

विद्यार्थियों के स्टार्ट अप आयडियाज को मार्गदर्शन व जरूरी प्रशिक्षण प्रदान करेगा। भोपाल। राधारमण समूह ने मध्यप्रदेश सरकार के एमएसएमई विभाग से हाल ही में एक करार किया है। समूह की ओर से इस करार पर राधारमण इन्स्टीट्यूट ऑफ टेक्नालॉजी एंड साइंस के डायरेक्टर डॉ. आर.के. पांडे तथा एमएसएमई विभाग की ओर से नोडल ऑफिसर वी.सी. दुबे ने हस्ताक्षर किए। करार के तहत विभाग द्वारा राधारमण समूह में इन्क्यूबेशन सेंटर स्थापित किया जाएगा। एंटरप्रेनरशिप एक्स्पर्ट्स से लैस यह सेंटर समूह के विद्यार्थियों के स्टार्ट अप आयडियाज को एक सफल कारोबार में तब्दील करने संबंधी मार्गदर्शन व जरूरी प्रशिक्षण प्रदान करेगा। राधारमण समूह के चेयरमेन आर आर सक्सेना ने कहा है कि जो विद्यार्थी नौकरी में न जाकर स्वयं का कारोबार स्थापित करना चाहते हैं उनके लिए यह सेंटर बहुत मददगार साबित होगा। इस इन्क्यूबेशन सेंटर में विशेषज्ञ विद्यार्थियों को बिजनेस आयडिया की बाजारी हकीकत से लेकर बिजनेस प्लान तैयार करने, संसाधन जुटाने, प्रोडक्ट को विकसित करने व उसे बाजार के अनुरूप बनाने से लेकर उसकी मार्केटिंग तक तमाम बारीकियों का प्रशिक्षण व मार्गदर्शन प्रदान करंेगें।

  More Detail
Current Event

राधारमण के विद्यार्थी श्वेतांक यूनाईटेड नेशन्स में करेंगे भारत का प्रतिनिधित्व
20-08-2019

राधारमण के विद्यार्थी श्वेतांक एशिया वर्ल्ड मॉडल यूनाईटेड नेशन्स में करेंगे भारत का प्रतिनिधित्व भोपाल। राधारमण इन्स्टीट्यूट ऑफ टेक्नालॉजी एण्ड साइंस के इलेक्ट्रिकल एंड इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग के 2018 बैच के छात्र इंजीनियर श्वेतांक कुमार एशिया वर्ल्ड मॉडल यूनाईटेड नेशन्स के तीसरे संस्करण में भारत की ओर से भाग लेंगे। इंडोनेशिया के बाली शहर में इस वर्ष 13 से 16 नवंबर तक होने जा रही इस कान्फ्रेंस में वे बतौर भारत के डेलीगेट शिरकत करेंगे। श्वेतांक भारत के उन 50 चुनिंदा विद्यार्थियों में से हैं जिन्हें इस प्रतिष्ठित अंतरराष्ट्रीय कान्फ्रेस में शामिल होने का मौका मिल रहा है। यह कान्फ्रेंस वास्तविक यूनाईटेड नेशन्स कान्फ्रेंस का बनावटी रूप होती है जिसमें विश्व की वास्तविक समस्याओं को सुलझाने के लिए रिसर्च, ड्राफ्ंिटग, लॉबिंग व डीबेट के बाद एक रिजॉलूशन पास किया जाता है। इसमें विश्व के विभिन्न देशों के विद्यार्थी भाग लेते हैं। श्वेतांक की इस उपलब्धि पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए राधारमण समूह के चेयरमेन आर आर सक्सेना ने कहा कि श्वेतांक के चयन ने एकबार पुनः यह साबित किया है कि राधारमण समूह में विश्वस्तरीय शिक्षा प्रदान की जाती है। उन्होंने कहा कि इस प्रतिष्ठित कान्फ्रेंस में श्वेतांक का चयन होना राधारमण ग्रुप एवं मध्य प्रदेश के लिए गर्व की बात है।

  More Detail
Current Event

राधारमण के उत्कर्ष राज को विदेश में 14 लाख पर मिली नौकरी
09-08-2019

राधारमण का विद्यार्थी बना मध्य प्रदेश का गौरव राधारमण के उत्कर्ष राज को विदेश में 14 लाख पर मिली नौकरी भोपाल। राधारमण इंजीनियरिंग कॉलेज के बीई मैकेनिकल थर्ड ईयर के विद्यार्थी उत्कर्ष राज ने शानदार उपलब्धि हासिल कर न केवल राधारमण समूह का बल्कि मध्य प्रदेश का भी नाम रोशन किया है। उत्कर्ष को विश्व की अग्रणी गारमेंट्स निर्माता व एक्सपोर्टर कंपनी मस्ट गारमेंट कॉरपोरेशन ने जॉर्डन में अपनी कंपनी में 14 लाख रूपये के शुरूआती पैकेज पर नियुक्ति प्रदान की है। संभवतः उत्कर्ष प्रदेश के पहले ऐसे विद्यार्थी हैं जिन्हें पढ़ाई के दौरान ही विदेश में इतने अच्छे पैकेज पर नियुक्ति मिली है। बिहार के मुजफ्फरपुर से राधारमण समूह में पढ़ने के लिए आए उत्कर्ष उन तमाम विद्यार्थियों के लिए आदर्श बन गए हैं जो अपने घर व परिवार से दूर रहकर न केवल प़ढ़ाई में अच्छे अंक लाकर उदाहरण प्रस्तुत कर रहे हैं बल्कि पढ़ाई समाप्त होने के पूर्व ही बेहतरीन पैकेज पर अपनी पहली नौकरी ही विदेश में जाकर शुरू कर रहे हैं। निश्चित ही जीवन के शुरूआती वर्षों में अंतरराष्ट्रीय अनुभव के मिलने से उत्कर्ष को आने वाले वर्षों में और भी बड़े पैकेज व पदों पर नियुक्तियों के ऑफर मिलेंगे। अपनी पढ़ाई व करियर के प्रति गंभीर उत्कर्ष बहुत ही मिलनसार व खुशमिजाज विद्यार्थी हैं। टीम वर्क, दूसरों की मदद करना, अनुशासित रहना तथा दोस्तों से रिश्ते निभाना उनकी खासियत है। उल्लेखनीय है कि हाल ही में मस्ट गारमेंट कॉरपोरेशन द्वारा राधारमण समूह परिसर में एक कैम्पस का आयोजन किया गया था। चार चरणों का यह कैम्पस पूरे दिन चला था जिसमें बड़ी संख्या में विद्यार्थी सम्मिलित हुए थे। कंपनी ने लिखित परीक्षा, प्रजेंटेशन, ग्रुप डिस्कशन तथा पर्सनल इंटरव्यू के जरिये इस इंटरव्यू में भाग ले रहे विद्यार्थियों की योग्यता को परखा था। कड़ी प्रतिस्पर्धा के बीच उत्कर्ष ने अपने सभी प्रतिद्वंदियों से आगे निकलकर अपनी प्रतिभा से कंपनी अधिकारियों को इम्प्रेस कर इस प्रतिष्ठित नौकरी को हासिल करने में सफलता हासिल की। उत्कर्ष की इस सफलता पर समूह के चेयरमेन आर आर सक्सेना ने उत्कर्ष को उनके उज्जवल भविष्य की शुभकामना देते हुए कहा है कि उत्कर्ष की सफलता यह साबित करती है कि मन में चाह और दृढ़ इच्छाशक्ति के बल पर कहीं पर भी बैठा व्यक्ति उन उचाईयों को पा सकता है जिसका सपना वह देखा करता है। हां यह बात जरूर है कि किसी भी व्यक्ति के टैलेंट को अच्छे शिक्षक व अच्छे शैक्षिक माहौल से ज्यादा अच्छी तरह से निखारा जा सकता है। राधारमण समूह विगत दस से अधिक वर्षों से मैनिट जैसे राष्ट्रीय स्तर के इंजीनियरिंग संस्थान से निकले उच्च शिक्षित व अनुभवी प्राध्यापकों की मदद से हजारों विद्यार्थियों व उनके माता-पिता के सपनों को साकार करने में सफलता हासिल करते आ रहा है। समूह की सफलताओं की सूची अब इतनी लंबी हो चुककी है कि अब राधारमण समूह संपूर्ण मध्यभारत में सफलता का पर्याय बन चुका है

  More Detail
Current Event

राधारमण आयुर्वेद मेडीकल कॉलेज रिसर्च हॉस्पिटल में चरक जयंती मनाई गई
05-08-2019

राधारमण आयुर्वेद मेडीकल कॉलेज रिसर्च हॉस्पिटल में चरक जयंती मनाई गई आयुर्वेद है शरीर, मस्तिष्क और आत्मा का सामंजस्य: डॉ. चंद्रप्रकाश शर्मा भोपाल। रातीबड़ स्थित राधारमण आयुर्वेद मेडीकल कॉलेज रिसर्च हॉस्पिटल में चरक जयंती मनाई गई। इस अवसर पर मानव समाज के लिए आयुर्वेद की उपयोगिता विषय पर सेमिनार का आयोजन भी किया गया। इस दौरान डॉ. चंद्रप्रकाश शर्मा, संयुक्त संचालक आयुष, डॉ. विपिन तोमर उपसंचालक आयुष विभाग मध्यप्रदेश, जिला अस्पताल सीहोर अधीक्षक राम प्रताप राजपूत, मृत्युंजय आयुर्वेद अस्पताल के संचालक डॉ. अनुराग सिंह राजपूत, उप अधीक्षक डॉ. गायत्री तेलंग, राधारमण आयुर्वेद मेडीकल कॉलेज रिसर्च हॉस्पिटल राधारमण ग्रुप के वाइस चेयरमैन भूपेंद्र सिंह पटेल सहित समस्त फैकेल्टी एवं इंजीनियरिंग के छात्र उपस्थित रहे। छात्रों को संबोधित करते हुए डॉ. शर्मा ने कहा कि लगभग 5000 वर्ष पहले भारत की पवित्र भूमि में शुरू हुई आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति लंबे जीवन का विज्ञान है और दुनिया में स्वास्थ्य के देखभाल की सबसे पुरानी प्रणाली है। इसमें औषधि और दर्शन शास्त्र दोनों के गंभीर विचारों शामिल हैं। यही कारण है कि मानव जाति के संपूर्ण शारीरिक, मानसिक और आध्यात्मिक विकास के लिए आयुर्वेद की अहम भूमिका है। आज यह चिकित्सा की अनुपम और अभिन्न शाखा है। एक संपूर्ण प्राकृतिक प्रणाली है, जो आपके शरीर का सही संतुलन प्राप्त करने में सहायक है। वहीं डॉ. तोमर ने बताया कि आज ही के दिन आयुर्वेद के महान आचार्य चरक का भी जन्म हुआ था। आयुर्वेद को जानने और समझने के लिए आचार्य चरक के चिकित्सा सिद्धांतों को समझना बहुत जरूरी है। उन्होंने आयुर्वेद का प्रमुख ग्रंथ चरकसंहिता लिखा था। राधारमण ग्रुप के वाइस चेयरमैन भूपेंद्र सिंह पटेल ने कहा कि यदि आप स्वस्थ व तनाव मुक्त रहना चाहते हैं, तो आयुर्वेदिक जीवन शैली ही इसका एकमात्र विकल्प है। आयुर्वेद जीवन जीने का विज्ञान है। आज से 5000 वर्ष पहले आयुर्वेद की संहिताओं में जो जीवन जीने के नियम वर्णित हैं, वो आज के वातावरण में भी एकदम खरे उतरते हैं। स्वास्थ्य की रक्षा करना और रोगी के रोगों की चिकित्सा करके रोग मुक्त करना आयुर्वेद का प्रमुख सिद्धांत है।

  More Detail
Current Event

राधारमण इंजीनियरिंग कॉलेज की छा़त्रा को मिला 9 लाख का पैकेज
03-08-2019

राधारमण इंजीनियरिंग कॉलेज की छा़त्रा को मिला 9 लाख का पैकेज भोपाल। राधारमण इंजीनियरिंग कॉलेज की कम्प्यूटर साइंस की छात्रा अनमोल जैन को ट्रायडेंट समूह में 9 लाख रूपये के पैकेज पर नियुक्ति मिली है। लुधियाना मुख्यालय वाली ट्रायडेंट कंपनी यार्न, बेड लिनेन, पेपर, केमिकल्स तथा कैप्टिव पावर के क्षेत्र में काम करती है। कंपनी के उत्पाद 100 से ज्यादा देशों में निर्यात किये जाते हैं। उल्लेखनीय है कि पढ़ने में तेज अनमोल ने हाल ही में अपना फाइनल सेमेस्टर 9.13 के एसजीपीए के साथ उत्तीर्ण किया था। कंपनी द्वारा विगत दिनों आयोजित कैम्पस में अनमोल ने सिलेक्शन प्रक्रिया के सभी राउण्ड अच्छी तरह पास किये थे। राधारमण समूह के चेयरमेन आर आर सक्सेना ने कहा कि तकनीकी एजूकेशन का क्षेत्र किसी भी व्यक्ति के जीवन में शिक्षा का आखिरी और करियर निर्माण का बहुत ही महत्वपूर्ण पड़ाव होता है। ऐसे में सही शिक्षण संस्थान का चयन भविष्य की दशा और दिशा -दोनों ही को निर्धारित करने वाला होता है। अनमोल तथा मुकेश कुमार जैसे सफल विद्यार्थी इस बात का जीता जागता उदाहरण हैं। हाल ही में मुकेश कुमार को अमेरिका की यूनिवर्सिटी ऑफ कैलीफोर्निया में बतौर रिसर्चर मोटे पैकेज पर नियुक्ति प्राप्त हुई थी। उनके समूह में शिक्षा के साथ साथ विद्यार्थियों को उन स्किल्स में भी ढाला जाता है जो पढ़ाई समाप्ति के बाद तुरंत रोजगार में मददगार होते हैं। समूह का ध्यान सदैव अपने कोर्सेस और विद्यार्थियों को उद्योग जगत की मांग के अनुरूप बनाये रखने पर रहता है ताकि दोनों ही अपटूडेट रह सकें।

  More Detail
Current Event

राधारमण ग्रुप में होगा इंटरनेशनल प्लेसमेंट
31-07-2019

राधारमण ग्रुप में होगा इंटरनेशनल प्लेसमेंट हांगकांग स्थित मल्टीनेशनल कंपनी का राधारमण में कैम्पस 14 लाख रूपये का होगा पैकेज, विदेश में होगी पोस्टिंग भोपाल। कोर इंजीनियरिंग के क्षेत्र में अनडिस्प्युटेड लीडर माने जाने वाले राधारमण समूह परिसर में हांगकांग स्थित विश्व की अग्रणी गारमेंट्स कंपनी मस्ट गारमेंट्स ओपन कैम्पस आयोजित करेगी। दस हजार से ज्यादा कर्मचारियों वाली यह कंपनी हांगकांग के अतिरिक्त यूके, यूएस, चीन, बांग्लादेश, विएतनाम, इजिप्ट तथा बहरीन में कारोबार करती है। बीई मेकेनिकल इंजीनियरिंग के पुरूष विद्यार्थियों के लिए यह कैम्पस 2 अगस्त को सुबह 9 बजे से आयोजित होगा जिसमें विभिन्न इंजीनियरिंग कॉलेजों के विद्यार्थी भाग ले सकेंगेे। कंपनी द्वारा योग्य उम्मीदवारों का चयन ऑनलाइन परीक्षा, ग्रुप डिस्कशन तथा टेक्नीकल व एचआर इंटरव्यू के जरिये किया जाएगा। चयनित छात्रों को जॉर्डन व ढाका में लगभग 14 लाख रूपये के पैकेज पर नियुक्ति प्रदान की जाएगी। राधारमण समूह के चेयरमेन आर आर सक्सेना ने कहा कि समूह की बढ़ती हुई लोकप्रियता तथा यहां से मिल रहे योग्य उम्मीदवारों के चलते अब विदेशी कंपनियां भी बड़ी संख्या में अपने कैम्पस समूह परिसर में आयोजित कर रही हैं। उन्होंने कहा कि यह बात न केवल समूह बल्कि प्रदेश के लिए भी प्रसन्नता का विषय है। समूह अपनी शैक्षिक गुणवत्ता तथा इंडस्ट्री की मांग के अनुरूप स्किल डेवलपमेंट के जरिए ही इस मुकाम तक पहुंचा है। इन प्रयासों को समूह आगे भी जारी रखेगा उल्लेखनीय है कि राधारमण समूह में विगत तीन वर्षाें में 520 कंपनियों ने कैंपस प्लेसमेंट का आयोजन किया है, जिसमें 5382 छात्रों का चयन हुआ है। इनमें अधिकतम पैकेज 24 लाख रुपए सालाना तक का रहा है। यही कारण है कि हाल ही में देश की प्रतिष्ठित मैगजीन इंडिया टुडे के आॅल इंडिया सर्वे में राधारमण समूह को देश में आठवां स्थान न्यूनतम फीस में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा श्रेणी में प्राप्त हुआ था।

  More Detail
Current Event

राधारमण विद्यार्थी को अमेरिका में मिली शानदार नौकरी
30-07-2019

राधारमण विद्यार्थी को अमेरिका में मिली शानदार नौकरी भोपाल। कोर इंजीनियरिंग के क्षेत्र में अनडिस्प्युटेड लीडर माने जाने वाले राधारमण समूह के विद्यार्थी मुकेश कुमार को एक साथ अमेरिका, जापान और यूएई से बतौर रिसर्चर जॉब ऑफर मिला है। मुकेश कुमार इनमें से अमेरिका स्थित यूनिवर्सिटी ऑफ कैलीफोर्निया में काम करने का निर्णय लिया है। मुकेश को अगस्त माह के अंतिम सप्ताह तक नौकरी ज्वाइन करनी है। राधारमण समूह से मेकेनिकल इंजीनियरिंग में बीई करने के बाद मुकेश कुमार ने गेट में सफलता पाई और आईआईटी भुवनेश्वर में प्रवेश लेकर एमटेक उत्तीर्ण की है। पढ़ने-लिखने में होशियर मुकेश के नाम अनेक उपलब्धियां दर्ज हैं। मुकेश के दो शोधपत्र प्रतिष्ठित जर्नलों में प्रकाशित हो चुके हैं तथा जल्द ही दो और लेख प्रकाशित होने जा रहे हैं। केन्द्रीय मानव संसाधन विभाग मुकेश को यूरोप जाकर रिसर्च करने के लिए भी फंड प्रदान किया है। म्ुकेश ने बताया कि उनकी इस सफलता में राधारमण समूह में मिले इंटरनेशनल लेवल के एक्सपोजर, फैकल्टी मेम्बर्स के गाईडेंस तथा माता-पिता का आशीर्वाद शामिल है। राधारमण समूह के चेयरमेन आर आर सक्सेना ने मुकेश को उज्जवल भविष्य की शुभकामना देते हुए कहा है कि पूर्व में भी समूह के अनेक विद्यार्थी समूह के फेकल्टी मेम्बर्स से मिले मार्गदर्शन एवं प्रतिभा के चलते विश्व के अनेक देशों में अच्छे पैकेज पर नौकरियां प्राप्त कर चुके हैं। उन्होंने कहा कि यह क्षमता प्रत्येक विद्यार्थी के भीतर छिपी होती है बस उसे बाहर निकालने के लिए सही मार्गदर्शन व कड़ी मेहनत करने की जरूरत होती है। उनके समूह के सभी फैकल्टी मेम्बर्स दिन-रात विद्यार्थियों के साथ मेहनत करते हैं ताकि उन्हें अच्छा करियर प्रदान किया जा सके। उल्लेखनीय है कि राधारमण समूह में विगत तीन वर्षाें में 520 कंपनियों ने कैंपस प्लेसमेंट का आयोजन किया है, जिसमें 5382 छात्रों का चयन हुआ है। इनमें अधिकतम पैकेज 24 लाख रुपए सालाना तक का रहा है। यही कारण है कि हाल ही में देश की प्रतिष्ठित मैगजीन इंडिया टुडे के आॅल इंडिया सर्वे में राधारमण समूह को देश में आठवां स्थान न्यूनतम फीस में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा श्रेणी में प्राप्त हुआ था।

  More Detail
1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14 15 16 17 18 19 20 21 22 23 24 25 26 27 28 29 30 31 32 33 34 35 NEXT